असली कंपनी का नकली लोगो लगाकर, अवैध शराब बनाने वाले गिरोह का हुआ पर्दाफ़ाश


लखनऊ। पुलिस उपायुक्त (पूर्वी) चारु निगम के निर्देशन तथा उप पुलिस आयुक्त (पुर्वी) अमित कुमार के निकट पर्यवेक्षण तथा सहायक पुलिस आयुक्त विभूतिखण्ड स्वतंत्र कुमार सिह के कुशल नेतृत्व में प्रभारी निरीक्षक थाना चिनहट धनन्जय पाण्डेय की टीम ने बीबीडी कालेज के पास से चेकिगं के दौरान मुखबिर से मिली सूचना के आधार पर अभियुक्त आदित्य सिह उर्फ पारीश पुत्र विजय सिह नि0-डंगरी थाना अंतु जनपद प्रतापगढ जिसकी उम्र करीब 23 वर्ष है को गिरफ्तार किया गया।


विस्तृत पूछताछ करने पर जानकारी मिली कि पकडा गया उपरोक्त आदित्य सिह अपने अन्य सदस्यों के साथ मिलकर नकली अपमिश्रित शराब बनाने के लिए ड़मो में एल्कोहल खरीद कर उस एल्कोहल की तीक्षणता बढाने के लिए उसमें यूरिया ब तमाम रासायनिक पदार्थ का मिश्रण मिलाकर उसे तैयार कर उसे हुबहू असली जैसा बनाने के लिए तमाम फ्लेवर ब रंग को इस्तेमाल करते थे फिर तैयार उस अवैध शराब को एल्कोहल मीटर से तीक्षणता मापकर उसे खाली बोतलों में भरकर उसके उपर फर्जी कूटरचित लोगो व ढक्कन लगाकर मशीन से सीलकर भारी मात्रा में तैयार करते थे और अपने लोगों की मदद से उस कम्पनी के ठेकेदारों व लाइसेंसी दुकानदारों को धोखा देने के नियत से अपमिश्रित नकली शराब को असली के रुप में प्रदर्शित कर बेचकर लाभांश प्राप्त करते थे। गिरफ्तारशुदा अभियुक्त के पिता डब्लूएचओ में आधिकारीक पद पर नियुक्त है।


अभियुक्त के पास से एक अदद मोबाईल फोन, आधार कार्ड, पेन कार्ड और 550 रुपए भी नगद बरामद हुए है। अभियुक्त की आपराधिक गतिवीधियो को देखते हुए उस पर मु0अ0सं0 603/20 धारा 269/270/271/272/419/420/467/468/471 भादवि व 60ए/63 आबकारी अधिनियम थाना चिनहट लखनऊ एवं मु0अ0सं0 649/2020 धारा 272/420/467/468/471 भादवि व 60ए/63 आबकारी अधिनियम थाना चिनहट,लखनऊ का अभियोग पंजीकृत कर आवश्यक कार्यवाही भी की जा रही है।


Popular posts from this blog

अनेक बातें जो हम समझ नहीं पाते

मुख्य सचिव की अध्यक्षता में आॅनलाईन ट्रांसफर सिस्टम विकसित किये जाने की प्रगति की समीक्षा बैठक की गई संपन्न

पीसीएस मणि मंजरी राय आत्महत्या मामले में नया खुलासा, ड्राइवर गिरफ्तार