मंत्री राजेन्द्र प्रताप सिंह ' मोती सिंह ' : साइबर अपराधियों के निशाने पर


लखनऊ : उत्तर प्रदेश में साइबर अपराधी किस तरह से निर्भय है इसका अंदाजा केवल इससे लगाया जा सकता है कि उनको राज्य सरकार के कद्दावर कैबिनेट मंत्री राजेन्द्र प्रताप सिंह ' मोती सिंह ' के नाम से फेसबुक पर फर्जी आईडी बनाकर रूपया मांगने में कोई भय नहीं है. आज जब इस संवाददाता के फेसबुक एकाउंट पर राजेन्द्र प्रताप सिंह ' मोती सिंह ' की फोटो लगाकर https://www.facebook.com/rajendrapratap.singh.96155669 से मित्रता प्रस्ताव भेजा गया तो इसे तुरंत स्वीकार कर लिया गया.करीब 07 बजे उक्त आईडी से पैसे की मांग की गई तो तुरंत शक हुआ क्योंकि मंत्री मोती सिंह राजनीति में आने से पहले ही आर्थिक रूप से बेहद संपन्न रहे है इसलिए उनके द्वारा रूपया मांगने का कोई सवाल ही नहीं उठता है.



थोड़ी देर तक अनिश्चतता की स्थिति बनी रही इसके बाद इस संवाददाता ने इसकी सूचना देने के लिए उनके निजी सचिव को फोन किया लेकिन उनका फोन नहीं उठा तब मंत्री आवास पर फोन करके इस फर्जीवाड़े की सूचना देने का प्रयास किया गया लेकिन लैण्डलाइन फोन भी नहीं उठा .इसके बाद इस संवाददाता ने मंत्री राजेन्द्र प्रताप सिंह ' मोती सिंह ' की फर्जी आईडी बनाकर पैसे मांगने के आपराधिक कृत्य की सूचना ट्वीट के जरिये लखनऊ पुलिस को दिया.सवाल यह है कि उत्तर प्रदेश सरकार के वरिष्ठ मंत्रियों में गिने जाने वाले राजेन्द्र प्रताप सिंह ' मोती सिंह ' के नाम से फर्जी आईडी बनाकर रूपया मांगने के लिए जिम्मेदार लोग इतने निर्भय क्यों है ? 
 
... प्रस्तुति : नैमिष प्रताप सिंह ...


Popular posts from this blog

अनेक बातें जो हम समझ नहीं पाते

पीसीएस मणि मंजरी राय आत्महत्या मामले में नया खुलासा, ड्राइवर गिरफ्तार

मुख्य सचिव की अध्यक्षता में आॅनलाईन ट्रांसफर सिस्टम विकसित किये जाने की प्रगति की समीक्षा बैठक की गई संपन्न