वेडिंग इंडस्ट्री को बचाए सरकार - संजय गुप्ता


लखनऊ। शादी विवाह एवं अन्य मांगलिक अवसरों पर केवल 100 व्यक्तियों के शामिल होने की गाइडलाइन के कारण, भुखमरी की कगार पर पहुंच चुके वेडिंग इंडस्ट्री से जुड़े हुए व्यापारियों ने "लखनऊ आदर्श टेंट कैटरर्स एंड डेकोरेशन एसोसिएशन ( संबद्ध: उत्तर प्रदेश आदर्श व्यापार मंडल)  के बैनर तले उत्तर प्रदेश आदर्श व्यापार मंडल के प्रांतीय अध्यक्ष संजय गुप्ता के नेतृत्व में   राजधानी में "पैदल मार्च" निकाला। "पैदल मार्च" लाल बाग सुपर मार्केट से शुरू हुआ तथा नगर निगम लालबाग तक गया तथा प्रशासन के माध्यम से उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ एवं भारत सरकार के गृह मंत्री अमित शाह को ज्ञापन भेजकर उनसे मांगलिक अवसरों पर शारीरिक दूरी के नियमों  के पालन की शर्तों के  साथ समारोह स्थल के क्षेत्रफल के अनुसार समारोह में शामिल होने वाले व्यक्तियों की संख्या बढ़ाने की मांग की।


एसोसिएशन के अध्यक्ष विजय कुमार ने कहा वर्तमान में लॉन, टेंट,  कैटरिंग ,गेस्ट हाउस, डेकोरेशन आदि क्षेत्र के व्यापारियों के सामने रोजी-रोटी का संकट खड़ा हो गया है 6 महीने से व्यापार पूरी तरह से बंद है उन्होंने कहा राजधानी लखनऊ एवं अन्य जिलों एवं अन्य राज्यों  में भारी संख्या में ऐसे लाॅन ,गेस्ट हाउस हैं जिनका क्षेत्रफल 3,000 स्क्वायर फिट से शुरू होकर 50,000 स्क्वायर फिट  तथा उससे भी अधिक है ऐसे में यदि क्षेत्रफल के अनुसार व्यक्तियों की संख्या बढ़ाने की अनुमति दी जाए तो शारीरिक दूरी के नियमों के पालन के साथ-साथ वेडिंग इंडस्ट्री भी चालू हो जाएगी तथा व्यापारियों की रोजी-रोटी की समस्या का समाधान हो सकेगा तथा सरकार को भी राजस्व की प्राप्ति होगी ,उन्होंने कहा सरकारी गाइडलाइन के अनुसार 6 फिट की शारीरिक दूरी को मानक मानते हुए 3600 स्क्वायर फुट में 100 व्यक्ति , 7200 स्क्वायर फिट में 200 तथा इसी गणना के अनुसार समारोह में शामिल होने वाले व्यक्तियों की संख्या बढ़ाई जाए।


उत्तर प्रदेश आदर्श व्यापार मंडल के प्रांतीय अध्यक्ष संजय गुप्ता ने कहा जिस प्रकार सभी क्षेत्रों को धीरे धीरे सरकार द्वारा खोला जा रहा है उसी प्रकार से मांगलिक अवसरों के लिए समारोह स्थल के क्षेत्रफल के अनुपात के अनुसार व्यक्तियों की संख्या बढ़ाने की अनुमति सरकार को देनी चाहिए क्योंकि टेंट, कैटरिंग आदि सेक्टर  कारीगरों पर निर्भर है ऐसे में व्यापारियों के साथ कारीगरों एवं मजदूरों के सामने भुखमरी की स्थिति उत्पन्न हो गई है। 


"पैदल मार्च "का नेतृत्व कर रहे  व्यापारी नेता संजय गुप्ता ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ एवं गृहमंत्री भारत सरकार अमित शाह को संबोधित ज्ञापन प्रशासन को सौंपा। 


Popular posts from this blog

त्वमेव माता च पिता त्वमेव,त्वमेव बन्धुश्च सखा त्वमेव!

स्वस्थ जीवन मंत्र : चैते गुड़ बैसाखे तेल, जेठ में पंथ आषाढ़ में बेल

या देवी सर्वभू‍तेषु माँ गौरी रूपेण संस्थिता।  नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नम:।।