योगी आदित्यनाथ का चुनाव से पहले गुंडामुक्त सरकार का वादा था लेकिन दे दिया गुंडा राज :- संजय सिंह


लखनऊ। उत्तर प्रदेश में मजबूत संगठन के निर्माण में  जुटी आम आदमी पार्टी का सदयस्ता अभियान ज़ोर शोर से चल रहा है। वाराणसी, आजमगढ़, मऊ, सहारनपुर, रामपुर, मेरठ, बिजनौर समेत 14 जिलों में ऐसे आयोजनों में सैकड़ो की संख्या में लोगो ने पार्टी की सदयस्ता ली है| जिनमें से अधिकतर ग्राम प्रधान, बीडीसी मेंबर, और पंचायत प्रतिनिधि है| ये जानकारी मंगलवार को आयोजित ऐसे ही कर्यकर्म के दौरान पार्टी के प्रदेश प्रभारी और राज्य सभा सासंद संजय सिंह ने दी| अयोध्या में आयोजित इस कार्यक्रम में बड़ी संख्या में पंचायत प्रतिनिधियों के साथ साथ युवजन ब्राह्मण सभा के सदस्यों ने पार्टी की नीति में आस्था जताते हुए सांसद संजय सिंह की मौजूदगी में पार्टी में शामिल हुए|


इस मौके पर पत्रकारों से बात करते हुए आम आदमी पार्टी के राज्यसभा सांसद और उत्तर प्रदेश के पार्टी प्रभारी संजय सिंह ने कहा कि देश की जीडीपी 24 फीसदी नीचे चली गई,देश में बेरोजगारों की फौज खड़ी हो गई। जनता के बुनियादी मुद्दों से भटकाने के लिए मंदिर-मस्जिद, जाति-धर्म व धार्मिक उन्माद के मुद्दे पैदा किए जा रहे हैं। सवाल उठाया कि कोई किसानों की, नौजवानों की, महिला सुरक्षा की बात क्यों नहीं करता? उन्होंने कहा कि बात रोजगार, शिक्षा, चिकित्सा, भुखमरी,रोजगार, महिला सुरक्षा पर होनी चाहिए। धर्म और आस्था प्रत्येक व्यक्ति का व्यक्तिगत मामला है। कहा कि जब इंसान ही इंसान नहीं रहेगा, तो वह भगवान की श्रद्धा से पूजा भी नहीं कर पाएगा। उत्तर प्रदेश की जनता ने सपा, बसपा, कांग्रेस और भाजपा सभी का राज देखा है। सब ने जनता के साथ वादा तो बहुत किया, लेकिन उनको पूरा नहीं किया। आम आदमी पार्टी जनता के मुद्दों को लेकर आंदोलन और संघर्ष कर रही है। हमारा मानना है कि जातियों की सरकार से प्रदेश की जनता का भला नहीं हो सकता। हमको प्रदेश में जनता की सरकार चाहिए।


आम आदमी पार्टी सांसद संजय सिंह ने कहा कि राजनीतिक दल वादा तो बहुत करते हैं, लेकिन फिर भूल जाते हैं। आम आदमी पार्टी ने जितना वादा किया था उससे ज्यादा दिल्ली में करके दिखाया है। 200 यूनिट बिजली फ्री, 400 यूनिट आधे दाम पर, प्राइवेट कान्वेंट स्कूलों जैसी सरकारी स्कूलों में शिक्षा, मोहल्ले में ही स्वास्थ्य सेवा के लिए मोहल्ला क्लीनिक की व्यवस्था कराई। आज शिक्षा, स्वास्थ्य तथा कोरोना पर प्रभावी नियंत्रण को लेकर दिल्ली मॉडल की पूरे विश्व में चर्चा हो रही है उन्होंने कहा कि सरकार में काम करने की नियति होनी चाहिए। आम आदमी पार्टी ने उत्तर प्रदेश में सभी सीटों पर पंचायत चुनाव लड़ने का निर्णय लिया है। 2022 के विधानसभा चुनाव के लिए शीर्ष नेतृत्व के साथ बैठक कर निर्णय लिया जाएगा।


योगी आदित्यनाथ के राज में जाति देखकर न्याय होता है। यहां बलात्कारी, हत्यारे, गुंडा, माफिया की जाति देखी जाती है। सब ने देखा कि चाहे वह हाथरस के बच्ची का मामला हो अथवा बलिया में सरेआम हत्या का। योगी आदित्यनाथ की सरकार और उनका प्रशासनिक तंत्र बेशर्मी के साथ खुलेआम अपराधी के पक्ष में खड़ी नजर आती है। प्रदेश में अपराध की बाढ़ पर चर्चा करते हुए उन्होंने कहा कि लखीमपुर खीरी,हाथरस, बलरामपुर,बागपत,आजमगढ़,फतेहपुर, बाराबंकी से लेकर आप कहीं भी देख लो छोटी-छोटी बच्चियों के साथ बलात्कार हो रहा है, नृशंस हत्या की जा रही है। आए दिन प्रदेश में दरिंदगी की पराकाष्ठा देखने को मिल रही है और जब हम इन दिल दहला देने वाली घटनाओं पर गौर करते हैं तो सरकार की भूमिका देखकर सर शर्म से झुक जाता है।


आम आदमी पार्टी संजय सिंह ने कहा कि केंद्र की मोदी सरकार न्यूनतम समर्थन मूल्य अर्थात एमएसपी को खत्म करने के लिए साजिश के तहत कृषि बिल लेकर आई है। लखीमपुर खीरी में फसल न बिकने और वाजिब दाम न मिलने के चलते एक किसान ने खेत में तैयार खड़ी अपनी धान की फसल पर ट्रैक्टर चला दिया। उन्होंने कहा कि यह ट्रैक्टर धान की फसल पर नहीं चला,बल्कि उस किसान की छाती पर चल, उसके श्रम पर चला और उसके खून पसीने पर चला। इसीलिए आम आदमी पार्टी हरियाणा,पंजाब से लेकर सदन तक इस काले कानून का विरोध कर रही है। किसानों की आय दोगुनी करने और डेढ़ गुना एमएसपी की बात करने वाली भाजपा सरकार ने बिल में असीमित भंडारण की छूट दे दी। अब अडानी अंबानी और अन्य पूजीपति सस्ते मूल्य पर अनाज,फल,सब्जी खरीद कर रख लेंगे और बाजार में कमी होने पर महंगे दामों में बेचेंगे। वास्तव में सरकार यह बिल जमाखोरी,मुनाफाखोरी और कालाबाजारी को कानूनी जामा पहनाने के लिए लेकर आई है।


प्रदेश प्रभारी संजय सिंह योगी सरकार की करतूत का खुलासा करते हुए कहा कि हाथरस मामले में सरकार ने आरोप लगाया कि प्रदेश में दंगा और जातीय हिंसा की अंतरराष्ट्रीय साजिश रची जा रही है। इसको लेकर योगी सरकार ने सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश की अदालत में अपने हलफनामे में अंग्रेजी वेबसाइट का हवाला दिया और वेबसाइट के पन्ने रखें,जो कोरोना काल में अश्वेतों के आंदोलन के लिए बनी थी। जिसमें कहा गया है कि आंदोलन के दौरान न्यूयार्क पुलिस आपकी फोटोग्राफी और वीडियोग्राफी कर सकती है। सवाल उठाया कि हाथरस में न्यूयॉर्क पुलिस वीडियोग्राफी और फोटोग्राफी क्यों करने आएगी?


प्रदेश सरकार के भ्रष्टाचार पर प्रहार करते हुए आप सांसद ने कहा कि पीएम मोदी ने आपदा में अवसर तलाशने की बात कही थी। सीएम योगी ने आपदा में अवसर तलाशा और कोरोना काल में उपकरणों की खरीद में 800-800 फीसदी कमीशन खाया। जब कोरोना से यूपी में लोग मर रहे थे, तब योगी सरकार श्मशान में दलाली खाने में जुटी थी। उन्होंने कहा कि आम आदमी पार्टी ने पहले ही एसआईटी जांच पर सवाल उठाया था। कहा था कि इस भ्रष्टाचार में ऊपर से नीचे तक लोग शामिल हैं। पार्टी ने 75 जिलों में कोरोना घोटाले का खुलासा किया था। एसआईटी ने अपनी जांच रिपोर्ट में 26 जिलों में भ्रष्टाचार की बात कही है।


Popular posts from this blog

अनेक बातें जो हम समझ नहीं पाते

मुख्य सचिव की अध्यक्षता में आॅनलाईन ट्रांसफर सिस्टम विकसित किये जाने की प्रगति की समीक्षा बैठक की गई संपन्न

पीसीएस मणि मंजरी राय आत्महत्या मामले में नया खुलासा, ड्राइवर गिरफ्तार