कलश-यात्रा निकालकर सुहागिन महिलाओं ने पूरी की अपनी मनोकामनाएं


सीतापुर। सीतापुर के लालबाग पार्क में आयोजित सात दिवसीय मानस मेले के दूसरे दिन रोज की तरह सुबह कथाव्यास ओमप्रकाश शास्त्री ने प्रवचन किया। तत्पश्चात अयोध्या से आए महंत अंबिका तरंग महाराज ने श्रीमद् भागवत कथाए सुंदरकांड व हनुमान चालीसा पाठ किया।


कथा व्यास द्वारा श्रीमद्भागवत के विषय  पर प्रकाश डालते हुए कहा कि श्रीमद् भागवत कथा के रसपान से व्यक्ति इस कलिकाल में भी भवसागर से पार हो जाता है। "श्रीरामचरितमानस यदि आदर्श जीवन के लिए ग्रंथ है तो श्रीमद्भागवत व्यक्ति को जीने की कला सिखाती है।"



आरती के साथ सुबह का कार्यक्रम संपन्न हुआ। दोपहर को लालबाग पार्क से कोविड नियमो का पालन करते हुए सुहागिन महिलाओ द्वारा कलश यात्रा निकाली गयी। कलश यात्रा घंटाघरए आलमनगर होते हुए दुर्गापुरवा स्थित गोपाल घाट आश्रम के नदी में सुहागिन महिलाओं ने अपनी मनोकामना पूरी करने के लिए घट भरे। तट पर पूजन अर्चन के उपरांत पुनः लालबाग पार्क यज्ञशाला में वापस आकर विधि विधान से पूजन कराया गया।


Popular posts from this blog

अनेक बातें जो हम समझ नहीं पाते

पीसीएस मणि मंजरी राय आत्महत्या मामले में नया खुलासा, ड्राइवर गिरफ्तार

मुख्य सचिव की अध्यक्षता में आॅनलाईन ट्रांसफर सिस्टम विकसित किये जाने की प्रगति की समीक्षा बैठक की गई संपन्न