मुख्यमंत्री ने पुलिस एवं पी0ए0सी0 बल के शौर्य व सेवा भाव को सराहा

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पुलिस एवं पी0ए0सी0 बल के शौर्य और सेवा भाव की सराहना करते हुये पुलिस मुख्यालय द्वारा 896 नागरिक पुलिस कर्मियों के पदावनत संबंधी पूर्व में जारी आदेश को वापस लेने के निर्देश दिये है। मुख्यमंत्री ने पी0ए0सी0 और नागरिक पुलिस में प्रोन्नति के अवसर समानांतर करने के लिए प्रस्ताव तैयार करने के निर्देश भी दिये हैं।


अपर मुख्य सचिव, गृह अवनीश कुमार अवस्थी ने यह जानकारी देते हुये बताया कि पी0ए0सी0 के जो कार्मिक विगत 29 नवम्बर 2004 के बाद सशस्त्र पुलिस/नागरिक पुलिस में चले गये थे, यदि उनका लियन पीएसी में समाप्त कर दिया गया था तथा वह निर्धारित मानक पूरे करते हो, तो उन्हे भी नागरिक पुलिस में संविलीन किया जायेगा। श्री अवस्थी ने बताया कि भविष्य में पी0ए0सी0 के किसी कार्मिक को नागरिक पुलिस में नहीं भेजा जायेगा।

उल्लेखनीय है कि सम्बन्धित कर्मियों को पदावनत किये जाने एवं तदोपरान्त पी0ए0सी0 संवर्ग में स्थानान्तरण किये जाने के कारण आने वाली कठिनाईयों को दूर करने एवं कर्मियों के मनोबल को बनाये रखने के दृष्टिगत शासन द्वारा यह निर्णय लिया गया है।


Popular posts from this blog

अनेक बातें जो हम समझ नहीं पाते

पीसीएस मणि मंजरी राय आत्महत्या मामले में नया खुलासा, ड्राइवर गिरफ्तार

मुख्य सचिव की अध्यक्षता में आॅनलाईन ट्रांसफर सिस्टम विकसित किये जाने की प्रगति की समीक्षा बैठक की गई संपन्न