राज्य निर्वाचन आयोग की अनुमति के बिना सरकार ने कैसे लगा दी धारा 144- संजय सिंह

लखनऊ। पंचायत चुनाव प्रचार में 5 से ज्यादा लोगों के इकट्ठा होने पर लगाई गई पाबंदी और सिर्फ 5 दिन प्रचार का वक्त दिए जाने को लेकर आम आदमी पार्टी ने सवाल उठाया है कि राज्य निर्वाचन आयोग की अनुमति के बिना सरकार ने आखिर किस अधिकार से धारा 144 लगाई है।

प्रदेश प्रभारी राज्यसभा सांसद संजय सिंह के नेतृत्व में आम आदमी पार्टी का प्रतिनिधिमंडल बुधवार को उत्तर प्रदेश के मुख्य निर्वाचन अधिकारी मनोज कुमार से मिला और इस संबंध में कार्रवाई की मांग की। मुलाकात के बाद मीडिया से मुखातिब संजय सिंह ने बताया कि हमने मुख्य निर्वाचन अधिकारी के आगे हैरानी जाहिर की कि आचार संहिता रहते हुए कोई राज्य सरकार निर्वाचन आयोग से बगैर पूछे 144 प्रदेश में लागू कर दे। पंचायत चुनाव प्रचार में 5 से ज्यादा लोगों के इकट्ठा होने पर लगाई गई पाबंदी को लेकर कार्रवाई करने की मांग करते हुए प्रतिनिधिमंडल ने सिर्फ 5 दिन प्रचार का मौका दिए जाने का जिक्र किया। कहा कि अगर इस तरह से चुनाव होगा तो फिर इसका क्या मतलब है।

इससे गरीब प्रत्याशी प्रचार नहीं कर सकेंगे। उन्होंने इसे योगी सरकार की साजिश बताते हुए कहा कि केरल में चुनाव हो रहा है, जहां 11 लाख केस हैं। बंगाल में चुनाव हो रहा है, वहां पर 06 लाख, असम में दो लाख, तमिलनाडु में 09 लाख और उत्तर प्रदेश में 06 लाख कोरोना केस हैं। यह सभी राज्य आबादी में उत्तर प्रदेश से कम है। वहां उत्तर प्रदेश से ज्यादा संख्या में कोरोना मरीज हैं। फिर भी वहां के विधानसभा के चुनाव में प्रधानमंत्री की रैली होगी, गृह मंत्री की रैली होगी। हमारे मुख्यमंत्री आदित्यनाथ भी जाकर वहां पर रैली और सभा करेंगे और लेकिन उत्तर प्रदेश के जिला पंचायत के चुनाव में राजनीतिक दल रैली, सभा नहीं कर सकते हैं और न कोई अपना प्रचार अभियान चला सकते हैं। 

प्रतिनिधिमंडल में प्रदेश अध्यक्ष सभाजीत सिंह, सह प्रभारी हमारी बृज कुमारी, प्रदेश के प्रवक्ता वैभव महेश्वरी, महासचिव दिनेश पटेल और प्रदेश के उपाध्यक्ष सरबजीत सिंह शामिल रहे। भाजपा नेता सुनील बंसल के कोरोना संक्रमित होने की सूचना पर आप नेता संजय सिंह ने मुख्यमंत्री को कोविड-19 के नियमों का पालन करने की सलाह दी। कहा कि मुख्यमंत्री को नियमतः क्वारंटाइन हो जाना चाहिए था लेकिन वह बंगाल में घूम कर चुनाव प्रचार कर रहे हैं। इस तरह से वह दूसरों के लिए खतरा बढ़ा रहे हैं। इसके साथ ही संजय सिंह ने प्रतापगढ़ में एसपी द्वारा विधायक की पिटाई किए जाने के मामले में सरकार को घेरा कहा कि जब विधायक के साथ योगी को पुलिस इस तरह का बर्ताव कर रही है तो फिर आम आदमी के साथ क्या हो रहा होगा, इसे समझा जा सकता है।

Popular posts from this blog

मुख्य सचिव की अध्यक्षता में आॅनलाईन ट्रांसफर सिस्टम विकसित किये जाने की प्रगति की समीक्षा बैठक की गई संपन्न

स्वस्थ जीवन मंत्र : चैते गुड़ बैसाखे तेल, जेठ में पंथ आषाढ़ में बेल

एकेटीयू में ऑफलाइन परीक्षा को ऑनलाइन कराए जाने के संबंध में कुलपति को सौंपा गया ज्ञापन