यूपी में कोरोना कर्फ्यू 31 मई की सुबह 07 बजे तक बढ़ाया गया

लखनऊ। यूपी में कोरोना कर्फ्यू एक सप्ताह और, यानी 31 मई को सुबह सात बजे तक बढ़ा दिया गया है। इसके दौरान सारे प्रतिबंध पूर्ववत लागू रहेंगे। उत्तर प्रदेश सरकार ने कोरोना कर्फ्यू (लॉकडाउन) को 31 मई की सुबह 7 बजे तक के लिए बढ़ा दिया है। इससे पहले 24 मई तक के लिए कोरोना कर्फ्यू लगाया गया था। यूपी सरकार ने कोरोना के मामलों में कमी के बावजूद सतर्कता बरतते हुए लॉकडाउन को बढ़ाया है। यूपी में कोरोना का ग्राफ धीरे-धीरे नीचे आ रहा है। यूपी के स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक संक्रमण के मामलों में खासी कमी आई है।

यूपी में अगले एक हफ्ते तक जारी रहने वाले लॉकडाउन के दौरान वही पाबंदियां जारी रहेंगी जो कि अब तक लागू थीं। कोरोना की दूसरी लहर पर काबू पाने के लिए कई राज्यों में लॉकडाउन या सख्त पाबंदियां लागू हैं। उत्तर प्रदेश में कोरोना कर्फ्यू खासतौर पर बाजारों पर लागू है। आवश्यक सेवाओं और औद्योगिक गतिविधियों पर कोई रोक नहीं है। हालांकि, परिवहन क्षेत्र पर सख्ती दिखाई गई है। रोडवेज बसों के दूसरे राज्यों जाने पर रोक है। साप्ताहिक बाजार बंद रखे गए हैं, बाजारों में दुकानें भी बंद रहेंगी। इस दौरान लोगों के बेवजह बाहर निकलने पर रोक है।

उड़ान सेवाओं पर भी कुछ पाबंदी लगी हुई है। इस महीने की शुरूआत में सीएम योगी आदित्यनाथ ने विमान सेवा से प्रदेश में आने वाले लोगों के लिए COVID-19 की नेगेटिव रिपोर्ट अनिवार्य करने का आदेश दिया था और यह भी सुनिश्चित करने को कहा था कि विमान सेवा के माध्यम से प्रदेश से जाने वाले लोग भी नेगेटिव रिपोर्ट आने पर ही जाएं। उन्होंने कहा था कि रेल से आने वाले यात्रियों की पूरी सूची प्राप्त की जाए और साथ ही, उनकी स्क्रीनिंग भी की जाए।

उत्तर प्रदेश सरकार प्रदेशवासियों के जीवन और जीविका को सुरक्षित रखने के लिए संकल्पित है। इसी भावना के साथ हमने कोविड की इस द्वितीय लहर में आंशिक कोरोना कर्फ्यू की नीति अपनाई है। प्रदेशव्यापी आंशिक कोरोना कर्फ्यू के सकारात्मक परिणाम देखने को मिल रहे हैं। संक्रमण की चेन तोड़ने में इससे आशातीत सहायता मिल रही है। प्रदेशवासियों की ओर से भी भरपूर सहयोग प्राप्त हो रहा है। एक्टिव केस लगातार कम हो रहे हैं। ऐसे में 31 मई की प्रातः 07 बजे तक आंशिक कोरोना कर्फ्यू को विस्तार दिए जाने का निर्णय लिया जा रहा है। वैक्सीनेशन, औद्योगिक गतिविधियों, मेडिकल सम्बन्धी कार्य आदि आवश्यक अनिवार्य सेवाएं यथावत जारी रहेंगी। इस संबंध में विस्तृत गाइडलाइंस जारी कर दी गयी है।

Popular posts from this blog

अनेक बातें जो हम समझ नहीं पाते

पीसीएस मणि मंजरी राय आत्महत्या मामले में नया खुलासा, ड्राइवर गिरफ्तार

मुख्य सचिव की अध्यक्षता में आॅनलाईन ट्रांसफर सिस्टम विकसित किये जाने की प्रगति की समीक्षा बैठक की गई संपन्न