कोरोना से ठीक होने वाले मासूमों में नई बीमारी का खतरा बढ़ा


कोविड से ठीक होने के बाद 19 साल से कम उम्र के बच्चों को मल्टी सिस्टम इंफ्लामेटरी सिड्रोम (एमआईएस-सी) बीमारी घेर रही है कोविड के बाद बच्चों में ये लक्षण 3-6 सप्ताह में दिख रहे हैं जिले में ऐसे 6 मरीज सामने आ चुके हैं, पोस्ट कोविड बच्चों में इस तरह के लक्षण दिखें तो डॉक्टर की सलाह लेकर तुरंत इलाज शुरू कराएं

कोरोना वायरस महामारी को मात देने के बाद भी बीमारियों की जकड़ बढ़ती जा रही है। कुछ वक्त से ब्लैक-व्हाइट और येलो फंगस के मरीज मिल रहे हैं। अब कोविड से ठीक होने के बाद 19 साल से कम उम्र के बच्चों को मल्टी सिस्टम इंफ्लामेटरी सिड्रोम (एमआईएस-सी) बीमारी घेर रही है। कोविड के बाद बच्चों में ये लक्षण 3-6 सप्ताह में दिख रहे हैं। इसमें बच्चों में उल्टी, दस्त, पेट दर्द, आंखें लाल होना, शरीर पर लाल निशान, हाथ पैर में सूजन, सुस्ती, व्यवहार में बदलाव, थकान और सांस लेने में दिक्कत होती है। जिले में ऐसे 6 मरीज सामने आ चुके हैं। अगर पोस्ट कोविड बच्चों में इस तरह के लक्षण दिखें तो डॉक्टर की सलाह लेकर तुरंत इलाज शुरू कराएं।

राजकीय आयुर्विज्ञान संस्थान (जिम्स) के निदेशक व बालरोग विशेषज्ञ (ब्रिगेडियर) डॉ. राकेश कुमार गुप्ता व डॉ. सुजॉय मुखोपाध्याय ने बताया कि कोविड के बाद 19 साल से कम उम्र के बच्चों में ये बीमारी देखी जा रही है। जितने बच्चे कोरोना से संक्रमित हुए, उनमें से 0.18 प्रतिशत बच्चों में एमआईएस-सी बीमारी पाई गई है। उन्होंने बताया कि इस बीमारी से बच्चों के फेफड़े, हृदय, किडनी, दिमाग, त्वचा, आंख, पेट के अंदर हिस्सों में सूजन आ सकती है। अगर बीमारी ने गंभीर रूप लिया तो किडनी और फेफड़े काम करना बंद हो सकते हैं। उन्होंने कहा कि इस बीमारी को रोका जा सकता है। माता-पिता सामाजिक दूरी, हाथ धोने और स्वच्छता को अपनाएं। स्वस्थ जीवन शैली का सख्ती से पालन करके कोविड संक्रमण से बच सकते हैं।

Popular posts from this blog

अनेक बातें जो हम समझ नहीं पाते

पीसीएस मणि मंजरी राय आत्महत्या मामले में नया खुलासा, ड्राइवर गिरफ्तार

मुख्य सचिव की अध्यक्षता में आॅनलाईन ट्रांसफर सिस्टम विकसित किये जाने की प्रगति की समीक्षा बैठक की गई संपन्न