गृह विभाग मे संचालित विशेष नियंत्रण कक्ष ऑक्सीजन आपूर्ति व्यवस्था पर बनाये हुए है लगातार नजर - अपर मुख्य सचिव, गृह

 


लखनऊः उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर प्रदेश में ऑक्सीजन की अधिकतम सप्लाई सुनिश्चित किये जाने हेतु निरन्तर सघन प्रयास किये जा रहे है, जिसके फलस्वरूप प्रदेश के मेडिकल कालेज, चिकित्सा संस्थान, निजी अस्पतालों एवं रिफीलर्स को अधिकतम ऑक्सीजन उपलब्ध करायी जा रही है।

अपर मुख्य सचिव, गृह, अवनीश कुमार अवस्थी ने उक्त जानकारी देते हुए बताया कि बीते 24 घंटे में प्रदेश में 947.27 मीट्रिक टन ऑक्सीजन की आपूर्ति की गयी है। उन्होंने बताया कि सेल्फ प्रोडक्शन के तहत एयर सेपरेटर्स यूनिट्स के माध्यम से भी कुल 61.53 मीट्रिक टन आॅक्सीजन आपूर्ति की गयी है।

श्री अवस्थी ने बताया कि 571.61 मीट्रिक टन आॅक्सीजन की आपूर्ति रिफीलर्स को खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन विभाग द्वारा की गयी है। साथ ही शासन के प्रयासो के फलस्वरूप 310.19 मीट्रिक टन आॅक्सीजन की सप्लाई प्रदेश के मेडिकल कालेजांे व चिकित्सा संस्थानो को तथा 65.48 मीट्रिक टन आॅक्सीजन की आपूर्ति आॅक्सीजन सप्लायर्स द्वारा सीधे निजी चिकित्सालयों को की गई है। इस प्रकार कुल 947.27 मीट्रिक टन से अधिक आॅक्सीजन की सप्लाई बीते 24 घंटे में प्रदेश भर के सरकारी व निजी अस्पतालों में की गयी है।

अपर मुख्य सचिव, गृह ने बताया कि कानपुर मंे 80 मीट्रिक टन तथा वाराणसी में 40 मीट्रिक टन आॅक्सीजन आज पहुॅचाई गई है। उन्होंने यह भी बताया कि जामनगर से रेल द्वारा 5 टैंकर के माध्यम से कुल 120 मीट्रिक टन आॅक्सीजन नोएडा, गाजियाबाद, आगरा व सहारनपुर हेतु भेजी गयी है। इसके अलावा बरेली व मुरादाबाद के लिये भी 2 आॅक्सीजन टैंकर रेल मार्ग से भेजे गये है।
उल्लेखनीय है कि जीवन रक्षक ट्रेन संख्या-3 द्वारा जमशेदपुर से 10 आॅक्सीजन टैंकर के माध्यम से कुल 80 मीट्रिक टन क्षमता के कल लखनऊ पहुॅचाया गये, जिनमें प्रत्येक टैंकर की क्षमता 8 मीट्रिक टन है। जीवन रक्षक ट्रेन संख्या-4 द्वारा 8 मीट्रिक क्षमता के 6 टैंकर कुल 48 मीट्रिक टन आॅक्सीजन कानपुर को कल उपलब्ध करायी गयी है। अब पुनः जमेशदपुर से आॅक्सीजन भर कर कल तक यह ट्रेन लखनऊ आएँगी।

Popular posts from this blog

मुख्य सचिव की अध्यक्षता में आॅनलाईन ट्रांसफर सिस्टम विकसित किये जाने की प्रगति की समीक्षा बैठक की गई संपन्न

स्वस्थ जीवन मंत्र : चैते गुड़ बैसाखे तेल, जेठ में पंथ आषाढ़ में बेल

एकेटीयू में ऑफलाइन परीक्षा को ऑनलाइन कराए जाने के संबंध में कुलपति को सौंपा गया ज्ञापन