भाजपा के कुप्रबंधन तथा भ्रष्टाचार ने स्वास्थ्य सेवाओं को कर दिया है बर्बाद- अखिलेश यादव

लखनऊ। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने सभी समाजवादी कार्यकर्ताओं, पदाधिकारियों तथा नवनिर्वाचित प्रतिनिधियों को निर्देश दिया है कि वे अपने आप को सुरक्षित रखते हुए अपने गाँव, आसपास की जनता की भरपूर सहायता का संकल्प लें और यथासंभव मदद में जुटे रहें। अखिलेश यादव ने कहा कि आज के हालत में कोरोना संक्रमण लगातार बढ़ता जा रहा है। अब शहरों, महानगरों के बाद ग्रामीण क्षेत्रों तक इसका विस्तार हो गया है, गांवों में तो स्वास्थ्य  सेवाएं न के बराबर हैं।

वहाँ संक्रमितों की जांच ही नहीं हो रही है, उपचार की बात तो दूर की बात है। यह बात जगजाहिर हो गई है कि उत्तर प्रदेश में भाजपा सरकार के कुप्रबंधन तथा भ्रष्टाचार ने स्वास्थ्य सेवाओं को बर्बाद कर दिया है और दिन प्रतिदिन हालत बिगड़ती जा रही है। कोरोना से संक्रमित होने वालों की संख्या न काम हो रही है और न मौतों का सिलसिला थम रहा है, ऑक्सीजन की कमी से उखड़ती साँसों के दौर में भी भाजपा सरकार संवेदनशून्य बनी हुई है। मुख्यमंत्री चाहें जो दावे करें हकीकत में कोरोना के मरीज अस्पतालों के चक्कर लगा रहे हैं और एम्बुलेंस में या स्ट्रेचर में इलाज तथा ऑक्सीजन के आभाव में दम तोड़ रहे हैं।

दवाएं, इंजेक्शन, सर्जिकल उपकरण, बाजार से गायब हैं। इनकी कालाबाजारी को सरकार रोकने में अक्षम है। समाजवादी पार्टी ने अपनी सरकार के समय में जो स्वास्थ्य सेवाएं शुरू की थी, उन्हें भाजपा सरकार ने आते ही बर्बाद कर दिया। 108, 102, एम्बुलेंस सेवाओं को ध्वस्त कर दी है। रायबरेली और गोरखपुर में एम्स के लिए जमीन समाजवादी सरकार ने दी थी और भाजपा सरकार समय से चालू तक नहीं कर सकी। भाजपा सरकार ने समाजवादी सरकार द्वारा बनाए मेडिकल कॉलेजों के नाम बदलने के सिवाय कोई नए मेडिकल कॉलेज की नींव तक नहीं रखी? आज जब हालात बिगड़े हैं तो उसे अवधशिल्प ग्राम और कैंसर अस्पताल में बदलने की सुध आई है। जनता देख रही है कि भाजपा सरकार में उसकी जिंदगी से कैसे खिलवाड़ हो रहा है?

Popular posts from this blog

अनेक बातें जो हम समझ नहीं पाते

पीसीएस मणि मंजरी राय आत्महत्या मामले में नया खुलासा, ड्राइवर गिरफ्तार

मुख्य सचिव की अध्यक्षता में आॅनलाईन ट्रांसफर सिस्टम विकसित किये जाने की प्रगति की समीक्षा बैठक की गई संपन्न