सभी हास्पिटल अपने यहां पीडिएट्रिक्स वार्ड अर्थात PICU/NICU वेंटिलेटर बेड की व्यवस्था करना सुनिश्चित कराए - जिलाधिकारी लखनऊ



लखनऊ। बच्चों के समुचित उपचार और कोविड संक्रमण को रोकने के उद्देश्य से वरिष्ठ नोडल अधिकारी डॉ रोशन जैकब व जिलाधिकारी लखनऊ अभिषेक प्रकाश द्वारा कलेक्ट्रेट सभागार में एक महत्वपूर्ण बैठक आहूत की गई। बैठक में  बच्चों में संक्रमण फैलने की संभावना के दृष्टिगत प्रमुख निजी चिकित्सालयो, मेडिकल कालेज व शासकीय चिकित्सालयो के पदाधिकारियों के साथ आपात स्थिति से निपटने के लिए कार्ययोजना बनाई गई। वरिष्ठ नोडल अधिकारी ने बताया की बच्चों में संक्रमण फैलने की सम्भावना को देखते हुए सभी हास्पिटल अपने यहां पीडिएट्रिक्स वार्ड अर्थात PICU/NICU वेंटिलेटर बेड की व्यवस्था करना सुनिश्चित कराए। 

बैठक में आए सभी अस्पतालों के पदाधिकारियों को निर्देश दिया गया कि वह सभी अपने अपने अस्पतालों में पीडिएट्रिक्स सीनियर/जूनियर रेसिडेंट, चिकित्सकीय उपकरण, लॉजिस्टिक आदि की व्यवस्था करना सुनिश्चित कराए ताकि किसी भी आपात स्थिति से आसानी से निपटा जा सके। साथ ही निर्देश दिया कि सभी हास्पिटल अपने स्टाफ की ट्रेंनिग करना सुनिश्चित कराए। उन्होंने बताया कि एस0जी0पी0जी0आई0 के द्वारा वर्चुअल और के0जी0एम0यू0 द्वारा हैंड्स आन ट्रेंनिग उपलब्ध कराई जाएगी। 

जिलाधिकारी ने बताया कि यदि कही पर सीनियर/जूनियर रेसिडेंट की कमी है तो उससे अवगत कराया जाए। साथ ही मुख्य चिकित्साधिकारी को निर्देश दिया कि प्राइवेट और मेडिकल कालेज में उपलब्ध पीडीएट्रिशियन को आवश्यकता अनुसार हास्पिटलो को उपलब्ध कराए। 

नोडल अधिकारी द्वारा बताया गया कि सभी हास्पिटल अपने यहां उपलब्ध PICU/NICU, ऑक्सीजन की उपलब्धता और पीडीएट्रिशियन के आधार पर पीडियाट्रिक वार्ड की व्यवस्था करना सुनिश्चित करें।

के0जी0एम0यू0 द्वारा बताया गया कि उनके यहां 100 बेड के पीडियाट्रिक वार्ड की व्यवस्था की जा रही है। जिसमे 50 बेड PICU/NICU के होंगे और शेष ऑक्सीजनयुक्त बेड होंगे।एस0जी0पी0जी0आई0 द्वारा बताया गया कि उनके यहां 50 PICU/NICU बेड का पीडियाट्रिक वार्ड बनाने की व्यवस्था की जा रही है।स्टाफ और लॉजिस्टिक से सम्बंधित कोई समस्या नही है। 

आर0एम0एल0 द्वारा बताया गया कि उनके यहां 50 बेड के पीडियाट्रिक वार्ड की व्यवस्था की जा रही है।जिसमे  30 बेड PICU/NICU और 20 ऑक्सीजनयुक्त बेड होंगे। उपकरण और लॉजिस्टिक उपलब्ध है परंतु सीनियर रेसिडेंट की कमी है। जिसके लिए मुख्य चिकित्साधिकारी को निर्देश दिया गया कि सीनियर रेज़िडेंट की व्यवस्था सुनिश्चित कराई जाए। एरा मेडिकल कालेज द्वारा बताया गया कि उनके यहां 30 बेड के PICU/NICU बेड की व्यवस्था की जा रही है। जिसके लिए निर्देश दिया गया कि हास्पिटल के द्वारा 100 बेड के पीडियाट्रिक वार्ड की व्यवस्था की जाए। जिसमे 50 बेड PICU/NICU और 50 ऑक्सीजनयुक्त बेड हो। 

इंटीग्रल मेडिकल कालज द्वारा बताया गया कि उनके यहां 50 बेड के पीडियाट्रिक वार्ड की व्यवस्था की जा रही है। जिसमे 25 बेड PICU/NICU और 25 ऑक्सीजनयुक्त बेड होंगे। टी0एस0एम0 हास्पिटल द्वारा बताया गया कि उनके यहां 8 PICU/NICU बेड की व्यवस्था है। जिसके लिए निर्देश दिया गया कि PICU/NICU बेड की संख्या को बढ़ा कर 20 किया जाए और 30 ऑक्सीजनयुक्त बेड की व्यवस्था करते हुए कुल 50 बेड का पीडियाट्रिक वार्ड बनाया जाए। बलरामपुर द्वारा बताया गया कि उनके यहां 50 बेड के पीडियाट्रिक वार्ड की व्यवस्था की जा रही है। जिसमे 20 PICU/NICU और 30 ऑक्सीजनयुक्त बेड होंगे। हास्पिटल में एल0एम0ओ0 प्लांट की व्यवस्था हो रही है। 

लोकबन्धु हास्पिटल द्वारा बताया गया कि उनके यहां 100 बेड के पीडियाट्रिक एवं मेटरनिटी वार्ड की व्यवस्था हो गई है। जिसमे 30 PICU/NICU बेड और 70 ऑक्सीजनयुक्त बेड है। सभी कार्य अंतिम चरण में है। मेडकिल स्टाफ, लॉजिस्टिक, उपकरण आदि सभी की व्यवस्था हो गई है। जल्द ही वार्ड को शुरू करा दिया जाएगा। 


       

Popular posts from this blog

अनेक बातें जो हम समझ नहीं पाते

पीसीएस मणि मंजरी राय आत्महत्या मामले में नया खुलासा, ड्राइवर गिरफ्तार

मुख्य सचिव की अध्यक्षता में आॅनलाईन ट्रांसफर सिस्टम विकसित किये जाने की प्रगति की समीक्षा बैठक की गई संपन्न