विश्व बैंक सहायतित प्रथम चरण के 04 कार्य प्रगति पर

लखनऊ। उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य के कुशल दिशा-निर्देशन में विश्व बैंक सहायतित प्रथम चरण में चयनित 04 बड़े मार्गों का कार्य तेजी से प्रगति पर है, जिसमें 02 कार्य पूर्ण हो गये हैं उनपर केवल अनुरक्षण का कार्य चल रहा है और 02 कार्य लगभग पूर्ण होने की स्थिति में हैं, जिनके पूर्ण होने की टाइमलाइन नवम्बर 2021 का प्रथम सप्ताह लक्षित की गयी है।

प्रथम चरण के 04 कार्यों की कुल लम्बाई 258.34 किमी0 है और लागत रू0 1415.05 करोड़ है, जिसके सापेक्ष रू0 1137.02 करोड़ धनराशि व्यय की जा चुकी है। विभागाध्यक्ष लोक निर्माण विभाग पी0के0 सक्सेना से प्राप्त जानकारी के अनुसार जनपद झांसी के गरौठा-चिरगांव मार्ग (लम्बाई 49.145 किमी) का कार्य रू0 222.93 करोड़ व्यय कर शत-प्रतिशत पूर्ण कर लिया गया है, इसमें अनुरक्षण कार्य ठेकेदार द्वारा किया जा रहा है। इसी तरह हमीरपुर में हमीरपुर-राठ मार्ग (लम्बाई 72.785 किमी) का कार्य रू0 307.18 करोड़ व्यय कर शत-प्रतिशत पूर्ण कर लिया गया है, इसमें भी अनुरक्षण कार्य किया जा रहा है।

लखमीपुर और शाहजहांपुर के अन्तर्गत गोला-शाहजहांपुर मार्ग (लम्बाई 57.300 किमी) का कार्य प्रगति पर है और इसका तीन चैथाई कार्य पूर्ण हो गया है, इस पर रू0 275.74 करोड़ व्यय किये जा चुके हैं। इस कार्य को पूरा करने के लिये 09 नवम्बर 2021 की तिथि लक्षित की गयी है। जनपद अमरोहा और सम्भल में बदायुं-बिल्सी मार्ग (लम्बाई 79.120 किमी) का 84 प्रतिशत कार्य रू0 331.17 करोड़ व्यय कर किया गया है। शेष कार्य प्रगति पर है, जिसको पूरा करने की टाइम लाइन 03 नवम्बर 2021 लक्षित की गयी है। विश्व बैंक सहायतित परियोजना में परियोजना की लागत की 70 प्रतिशत धनराशि विश्वबैंक द्वारा एवं 30 प्रतिशत धनराशि राज्य सरकार द्वारा वहन की जाती है। उपमुख्यमंत्री ने विभागीय अधिकारियों को निर्देश दिये हैं कि अवशेष कार्यों को निर्धारित तिथि तक अनिवार्य रूप से पूरा कराया जाना सुनिश्चित किया जाय।

Popular posts from this blog

मुख्य सचिव की अध्यक्षता में आॅनलाईन ट्रांसफर सिस्टम विकसित किये जाने की प्रगति की समीक्षा बैठक की गई संपन्न

स्वस्थ जीवन मंत्र : चैते गुड़ बैसाखे तेल, जेठ में पंथ आषाढ़ में बेल

एकेटीयू में ऑफलाइन परीक्षा को ऑनलाइन कराए जाने के संबंध में कुलपति को सौंपा गया ज्ञापन