संवैधानिक अधिकारों के दमन के विरुद्ध संघर्ष से पीछे नही हटेंगी कांग्रेस- अजय कुमार लल्लू

लखनऊ। इजराइली जासूसी उपकरण/सॉफ्टवेयर पेगासस के द्वारा देश के विपक्ष के नेताओं जिसमें प्रमुख रुप से राहुल गांधी सहित अन्य व देश के पूर्व राष्ट्रपति, देश के पूर्व प्रधानमंत्री, साथ-साथ देश के पूर्व मुख्यमंत्री व न्यायाधीश और मीडिया संस्थानों के प्रमुख एवं पत्रकार, भारत के चुनाव आयुक्त के साथ सोशल एक्टिविस्ट सहित भारतीय सेना के वरिष्ठ सैन्य अधिकारियों व देश के अन्य लोगों की केंद्र की भारतीय जनता पार्टी सरकार के द्वारा फोन टैपिंग/हैकिंग कर जासूसी के विरोध एवं निजता के अधिकारों के हनन के खिलाफ आज भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के अखिल भारतीय प्रदर्शन के क्रम में उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में भाजपा की लोकतंत्र विरोधी सोच के खिलाफ प्रदर्शन कर कांग्रेस जनों द्वारा अपना विरोध दर्ज कराया।

प्रवक्ता अंशु अवस्थी ने जानकारी देते हुए बताया कि उत्तर प्रदेश में प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू के नेतृत्व में प्रदर्शन हुआ, उत्तर प्रदेश की भाजपा सरकार ने विरोध प्रदर्शन को दबाने की बहुत कोशिश की लेकिन मुख्यमंत्री और भाजपा सरकार सफल नहीं हो पाए। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू एवं विधानमंडल दल की नेता आराधना मिश्रा मोना सहित प्रदेश के अन्य नेताओं को लोकतांत्रिक तरीके से प्रदर्शन से रोकने के लिए हाउस अरेस्ट किये जाने की खबर मिलते ही आक्रोशित कांग्रेस कार्यकर्ताओं की भीड़ सुबह से ही प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष के निवास पर जुटना शुरू हो गई। जिसके उपरांत कार्यकर्ताओं के साथ प्रदर्शन हेतु निर्धारित स्वास्थ्य भवन कैसरबाग से राजभवन तक मार्च के लिए जाते समय पुलिस से झड़प के बाद प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू को गिरफ्तार कर इको गार्डन ले जाया गया।

विधान मण्डल दल नेता अराधना मिश्रा मोना, विधान परिषद सदस्य दीपक सिंह व पूर्व सांसद राकेश सचान, पूर्व मंत्री नसीमुद्दीन सिद्दकी, पूर्व विधायक श्याम किशोर शुक्ला एवं सतीश अजमानी सहित अन्य नेताओं को भी गिरफ्तार किया गया। गिरफ्तारी पर लल्लू ने भाजपा सरकार को घेरते हुए कहा कि भारतीय जनता पार्टी सिर्फ जासूस पार्टी बनकर रह गई है और तानाशाही से लोकतंत्र को समाप्त करना चाहती है, देश-प्रदेश का जनमानस आश्चर्यचकित है कि क्या काम सौंपा था वोट देकर भाजपा को और भारतीय जनता पार्टी सत्ता में पहुंचने के बाद तानाशाही रवैया से लोगों के अधिकारों को खत्म करने की कोशिश कर रही है, जासूसी कराकर निजता पर डाका डाल रही है। जो भी जनता की आवाज उठाता है सच दिखाता है उन मीडिया संस्थानों को उत्पीड़न किया जा रहा है।

आज भारत समाचार, और दैनिक भाष्कर समूह पर भाजपा की फ्रंटल संगठन बन चुकी इनकम टैक्स की रेड करायी गई, इसीलिए कि वह सच दिखा रहे हैं, पत्रकारों को पीटा जा रहा है मुकदमे लिखे जा रहे हैं लेकिन हम सभी कांग्रेसजन इस जुल्मी सरकार से डरने वाले नही है। हमारे नेता राहुल गांधी के नेतृत्व में इस जुल्मी सरकार से लड़ेंगे हम प्रियंका गांधी के नेतृत्व में इस तानाशाह भाजपा सरकार की तानाशाही को लेकर जनता के बीच जाएंगे और 2022 में प्रदेश सरकार को उखाड़ फेंकने का काम करेंगे। कांग्रेस विधानमंडल दल की नेता श्रीमती आराधना मिश्रा मोना ने कहा भाजपा सरकार का नेतृत्व लोगों की निजता को समाप्त करना चाहता है क्या भारतीय जासूस पार्टी सरकार लोगों के घरों को झांकने का काम करेगी, क्या इससे प्रदेश और देश का विकास हो जाएगा, देश का जनमानस इस बात को देख रहा है कांग्रेस पार्टी मांग करती है की देश की सुरक्षा को संभाल पाने में नाकाम रहे गृहमंत्री अमित शाह पूरी तरह फेल हो चुके हैं इसलिए वह इस्तीफा दें और पैगासस जासूसी में जेपीसी का गठन किया जाए और माननीय उच्चतम न्यायालय के वर्तमान न्यायाधीश से जांच कराई जाए।

विधान परिषद दल के नेता श्री दीपक सिंह ने भाजपा सरकार को आड़े हाथों लेते हुए कहा भारतीय जनता पार्टी संविधान की आत्मा को ठेस पहुंचा रही है लोगों के घर पेगासस द्वारा ताक-झांक करना निजता का हनन है, भाजपा सरकार अपना महत्त्व खो चुकी है देश के लोग सरकार द्वारा करायी जा रही पेगासस जासूसी की जानकारी के बाद बहुत ही आक्रोशित हैं हम मांग करते हैं। राष्ट्र की सुरक्षा से खिलवाड़ करने वाले देश के प्रधानमंत्री सदन में आकर पेगासस जासूसी कांड पर जवाब दें। पूर्व मंत्री और प्रदेश कांग्रेस मीडिया चेयरमैन नसीमुद्दीन सिद्दीकी ने कहा भारतीय जनता पार्टी देश की सुरक्षा से खिलवाड़ कर रही है और लोगों को डराकर अपना शासन स्थापित करना चाहती है आज लोकतांत्रिक प्रदर्शन को दबाने की जिस तरह से सरकार ने कोशिश की है वह बहुत ही दुर्भाग्यपूर्ण है हम श्रीमती प्रियंका गांधी जी के नेतृत्व में जनता की आवाज सड़क पर उठाते रहेंगे यह सरकार चाहे जितना अत्याचार कर ले।

Popular posts from this blog

अनेक बातें जो हम समझ नहीं पाते

मुख्य सचिव की अध्यक्षता में आॅनलाईन ट्रांसफर सिस्टम विकसित किये जाने की प्रगति की समीक्षा बैठक की गई संपन्न

यूपी में पंचायत चुनाव को लेकर राज्य निर्वाचन आयोग ने शुरू की तैयारियां