चुनाव के समय बसपा और भाजपा को याद आ रहे ब्राह्मण - सभाजीत सिंह



लखनऊ :  आम आदमी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष सभाजीत सिंह ने बसपा के ब्राह्मण सम्मेलन पर करारा तंज करते हुए कहा कि चुनाव के समय बसपा और भाजपा को ब्राह्मण याद आ रहे है । पिछले साढ़े चार साल में भाजपा की सरकार में ब्राह्मण अपमान, अन्याय और अत्याचार सहता रहा , निर्दोष खुशी दुबे आज भी जेल में बंद है, पूर्व विधायक निर्पेन्द्र मिश्रा की हत्या कर दी गई । ब्राह्मणों के खिलाफ ऐसी कई घटनाएं उत्तर प्रदेश में हुई है लेकिन सरकार ब्राह्मणों को कोई न्याय नहीं दिला पाई वही दूसरी तरफ बसपा ब्राह्मण संम्मेलन कर ब्राह्मणों का हितेषी बनना चाहती है, जब ब्राह्मणों पर अत्याचार हो रहा था तब कहां थी बसपा ? प्रदेश अध्यक्ष सभाजीत सिंह ने कहा कि धर्म, जाति के नाम पर सियासत करना भाजपा की आदत रही है. नफरत फैलाकर वोट के लिए लोगों को आपस में लड़ाना भाजपा का काम है यूपी की जनता भाजपा की असलियत जान चुकी हैबसपा और भाजपा नूरा कुश्ती बंद करे जनता सब समझ रही है 2022 में जनता इसका जबाब देगी ।

उहोने कहा कि कोरोना काल में जब लोगों की जान जा रही थी तब यहां योगी सरकार पीपीई किट, वेंटिलेटर आदि के नाम पर घोटाला कर रही थी यूपी की जनता ने इन्हें राम के नाम पर चंदा चोरी करते देखा है मंदिर के नाम पर जमीन खरीद में करोड़ों रुपए का भ्रष्टाचार यूपी की जनता कभी नहीं भूलेगी 

सभाजीत सिंह ने योगी सरकार से सवाल करते हुए कहा कि उत्तर प्रदेश में स्मार्ट सिटी कहाँ है ? सड़कों के गड्ढे अभी भी भरें नही हैं, हल्की सी बरसात में शहर जलमग्न हो गए ।

सभाजीत सिंह ने कहा कि गृह मंत्री अमित शाह ने योगी की तारीफ करके उन लोगों के जख्मों पर नमक छिड़कने का काम किया जिन लोगों ने कोरोना काल में अपनों को खोया है यह सरकार हर मोर्चे पर पूरी तरह नाकाम साबित हो चुकी है यहां भाजपा फिर से सत्ता में वापस आए, इसके लिए शाह की कोई भी चाल अब कामयाब नहीं होने वाली यूपी की जनता ने भाजपा का असली चेहरा पहचान लिया है और उसका चाल-चरित्र जग जाहिर हो चुका है

Popular posts from this blog

मुख्य सचिव की अध्यक्षता में आॅनलाईन ट्रांसफर सिस्टम विकसित किये जाने की प्रगति की समीक्षा बैठक की गई संपन्न

अनेक बातें जो हम समझ नहीं पाते

एकेटीयू में ऑफलाइन परीक्षा को ऑनलाइन कराए जाने के संबंध में कुलपति को सौंपा गया ज्ञापन