जन समस्याओ का चार सूत्रीय ज्ञापन अतिरिक्त मजिस्ट्रेट को सौपा गया


सीतापुर भारत परिषद के पदाधिकारियो द्धारा शुक्रवार को चार सूत्रीय जिलाधिकारी को सम्बोधित ज्ञापन अतिरिक्त मजिस्ट्रेट अजय कुमार सिंह को सौपा गया। ज्ञापन में जन समस्याओं को रखते हुए उसके समाधान की मांग की गयी। ज्ञापन के पहले बिंदु में जिला महासचिव आकाश राय बताया कि कोरोना संक्रमण के मामले कम होने के बाद डेंगू और मलेरिया जैसी बिमारियां जिले के लिए अभिशाप बनती जा रही हैं।
 
अस्पतालों में डेंगू और मलेरिया के मरीजों में लगातार बढ़त होती जा रही है। नगर के  वार्ड में रहने वाले लोग मच्छरों से काफी परेशान है। डेंगू की रोकथाम के लिए नगर के प्रत्येक वार्ड में एंटी लार्वा का छिड़काव, पाउडर और फागिंग करवानी होती है, लेकिन पालिकाके अधिकारी कागजों और फाइलों में यह छिड़काव कर रहे और पालिका की ओर से मच्छरों को खत्म करने के लिए कोई ठोस कदम नहीं उठाए जा रहे हैं। दूसरे बिंदु में बताया शहर की मुंशीगंज से बड़ागांव जाने वाली प्रमुख सड़क बेहद खस्ताहाल हैं। सड़क गड्ढों में तब्दील हो चुकीं है गन्ने से लदे ट्रक व् ट्राली इस मार्ग से होकर गुजरते है आए दिन गन्ने से लदी ट्राली गड्डो में फस कर पलट जाते है।  तीसरे बिंदु में बताया कि पाण्डे चौक से बटसगंज पुल के सड़क पर लग रही सब्जी मंडी से मार्ग पर जाम के हालात रहते हैं।
 
दुकानदार सब्जी पुल के सड़को के किनारे लगा लेते है, जिस कारण वहा ट्रैफिक जाम की स्थिति बनी रहती है और जनता घंटो इस जाम में फसे रहते है, मंडी से हो रही परेशानी की शिकायत कई बार की गयी मगर समस्या का समाधान नहीं हो सका है। अंतिम  बिंदु में बताया कि फायर स्टेशन से पहले जो पंचमपुरवा के लिए मुख्य मार्ग बना हुआ है उस मार्ग पर लोगो ने अतिक्रमण कर रक्खा है जिससे जन मानस व वाहनों  को मार्ग पर निकलने पर काफी दिक्कत का सामना पड़ता है आये दिन दुर्घटनाए भी हो रही है ज्ञापन में मुख्य रूप से जिला अध्यक्ष डॉ वीरेन्द्र आर्य, जिला महासचिव आकाश राय, वरिष्ठ उपाध्यक्ष डॉ याकूब खान, जिला उपाध्यक्ष राम कुमार कटियार, डॉ शांति स्वरुप रस्तोगी, कमलेश मेहरोत्रा जिला मिडिया प्रभारी लक्ष्मीकांत बाजपाई, अध्यक्ष छायाकार प्रकोष्ठ अजीत सक्सेना,   जिला उपाध्यक्ष महिला प्रकोष्ठ रजनी वर्मा, वार्ड अध्यक्ष शिखा शर्मा, जिला सगठन मंत्री सीमा बाजपाई, कुलदीप सिंह आदि मौजूद रहे।

Popular posts from this blog

स्वस्थ जीवन मंत्र : चैते गुड़ बैसाखे तेल, जेठ में पंथ आषाढ़ में बेल

त्वमेव माता च पिता त्वमेव,त्वमेव बन्धुश्च सखा त्वमेव!

राष्ट्रीयता और नागरिकता में अंतर