सुरक्षित यात्रा के लिए वाहन चालक अनिवार्य रुप से हेल्मेट/सीटबेल्ट का करें प्रयोग - जिलाधिकारी


श्रावस्ती। जीवन अमूल्य है इसलिए यातायात नियमों का पालन करकें हम सब सुरक्षित यात्रा कर सकते है। यातायात नियम हमारे जीवन में बहुत ही महत्वपूर्ण हैं। इनके प्रति बेपरवाह होने का मतलब है हम जीवन के प्रति लापरवाह हैं। बच्चे हों या बड़े जिसने भी नियमों का महत्व नहीं समझा उनको किसी न किसी समय बड़ा खामियाजा उठाना पड़ता है। इसलिए अपने वाहन को अपडेट रखें वहीं यातायात नियमों का भी शत-प्रतिशत अमल में लाया जाए ताकि सभी वाहन चालक सुरक्षित यात्रा कर अपने गंतब्य स्थान पर पहुंच सकें। इसके साथ ही सभी वाहन चालक अनिवार्य रुप से हेल्मेट और सीटबेल्ट का प्रयोग अवश्य करें। यदि कोई भी वाहन चालक अज्ञानता वश यातायात नियमों का उल्लंघन करते पाया जायें तो उन्हें यातायात नियमों का पाठ पढ़ाने के साथ ही इस लापरवाही के लिए उनके खिलाफ कार्यवाही अवश्य की जाएं।


कलेक्ट्रेट सभागार में जिला सड़क सुरक्षा समिति एवं जिला विद्यालय परिवहन यान सुरक्षा समिति के बैठक की अध्यक्षता करते हुए जिलाधिकारी यशु रुस्तगी ने व्यक्त किया। उन्होंने जोर देते हुए कहा कि जिलें में यातायात नियमों का शत-प्रतिशत अनुपालन सुनिश्चित कराया जाए। यदि किसी भी व्यक्ति के द्वारा यातायात नियमों का उल्लंघन करते हुए पायें जाए तो उन्हें यातायात नियमों का पाठ पढ़ाने के साथ ही उनके खिलाफ निर्धारित कार्यवाही भी सुनिश्चित की जाए।


बैठक में जिलाधिकारी द्वारा निर्देशित किया गया कि जनपद में सड़क दुर्घटनाओं में कमी लाने हेतु चिन्हित ब्लैक स्पाॅटो पर कमेटी गठित कर दुर्घटना के कारणो का पता लगाया जायें तथा पेट्रोल पम्पो पर बिना हेल्मेट के पेट्रोल न दिया जाये। भिनगा सिरसिया में अन्टा तिराहे भिनगा-सिरसिया मार्ग, सेमरी चैराहा भिनगा-इकौना मार्ग, बरदेहरा मोड़ भिनगा-बहराइच मार्ग पर स्पीडबे्रकर बनाया जाए। विद्यालय के प्राचार्य/प्रबन्धको को निर्देश दिये गये कि भविष्य में जब कभी विद्यालय में अध्यापन कार्य शुरु होता है तो उस दौरान वे यह ध्यान रखेंगे कि यदि विद्यालय में कोई भी छात्र-छात्रा बाइक या स्कूटी से आते है तो उनसे अनिवार्य रुप से हेल्मेट का प्रयोग अवश्य करवाया जाए। तथा वाहन चालको को हेल्मेट/सीटबेल्ट का प्रयोग करने हेतु जागरूक किया जाये एवं स्कूली वाहन चालको का चरित्र का सत्यापन अनिवार्य रूप से कराया जाये। इसके साथ ही जिलाधिकारी ने सभी विभागों के अधिकारियों/कर्मचारियों को भी सुरक्षित यात्रा के दृष्टिगत अनिवार्य रुप से हेल्मेट और सीटबेल्ट का अनिवार्य रुप से प्रयोग करने का निर्देश दिया है।


बैठक में अपर जिलाधिकारी योगानन्द पाण्डेय, मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 ए0पी0 भार्गव, परियोजना निदेशक बी0जी0 शुक्ल, पुलिस क्षेत्राधिकारी हौसला प्रसाद, सहायक सम्भागीय परिवहन अधिकारी एन0के0 वर्मा, मा0 सांसद प्रतिनिधि डा0 सुनील कुमार चैधरी, जिला विद्यालय निरीक्षक चन्द्रपाल, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी ओमकार राना, प्रधान सहायक ओ0पी0 मिश्रा, डी0बी0ए0 पंकज, वरिष्ठ सहायक सचिन शुक्ला एवं समिति के सदस्यगण उपस्थित रहें।


(एम० अहमद) 


Popular posts from this blog

स्वस्थ जीवन मंत्र : चैते गुड़ बैसाखे तेल, जेठ में पंथ आषाढ़ में बेल

या देवी सर्वभू‍तेषु माँ गौरी रूपेण संस्थिता।  नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नम:।।

!!कर्षति आकर्षति इति कृष्णः!! कृष्ण को समझना है तो जरूर पढ़ें