74वें स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने विधान भवन, लखनऊ में किया ध्वजारोहण


लखनऊ। 74वें स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने विधान भवन, लखनऊ में किया ध्वजारोहण।  ध्वजारोहण के बाद अपने सम्बोधन में मुख्यमंत्री ने कहा आज का दिन उत्साह और उमंग का दिन है। आज ही के दिन 1947 में स्वाधीनता प्राप्त हुई थी। सत्य और अहिंसा के पुजारी बापू जी, सुभाष चंद्र बोस, डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी, सरदार वल्लभ भाई पटेल और बाबा साहेब भीम राव अम्बेडकर को श्रद्धांजलि अर्पित करता हूँ। भारत माता के इन सपूतों को कोटि-कोटि नमन करता हूँ। देश के भीतर शहीद होने वाले सपूतों को भी श्रद्धाजंलि अर्पित करता हूँ। हम सब के पास अवसर है तो कोविड- 19 जैसी त्रासदी भी है। प्रधानमंत्री के नेतृत्व में जिस प्रकार की योजना तैयार हुई, उसका परिणाम है भारत सुरक्षित और संतोषजनक स्थिति में पाता है। लड़ाई को आगे बढ़ाने के लिए कोरोना योद्धाओं पुलिस, सफ़ाई कर्मी अफ़सर, डॉक्टर्स का हृदय से अभिनंदन करता हूँ।इन सभी ने आदर्श सेवा का भाव से कार्य किया। 


आज हम 74वां स्वाधीनता दिवस मना रहा है। क्या प्रयास हो सकता है उस पर प्रयास करना है। 1 लाख 70 हज़ार करोड़ की लागत से 80 करोड़ लोगों तक निःशुल्क खाद्यान योजना शुरू की। सरकार 18 करोड़ लोगों यूपी में मार्च से अब तक पर्याप्त खाद्यान उपलब्ध करा रही है। ग़रीबों, बेरोज़गारों, मज़दूरों के लिए हमारी मशीनरी ने बेहतर परिणाम दिए सेवा की है। लोग सोचते थे स्थिति बेहद भयावह होगा लेकिन काम अच्छा हुआ पुलिस, प्रशासनिक और डॉक्टरों ने काम किया, बेहतर परिणाम दिया। हम अपने सभी सहयोगियों की बधाई देते है। 


Popular posts from this blog

स्वस्थ जीवन मंत्र : चैते गुड़ बैसाखे तेल, जेठ में पंथ आषाढ़ में बेल

या देवी सर्वभू‍तेषु माँ गौरी रूपेण संस्थिता।  नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नम:।।

!!कर्षति आकर्षति इति कृष्णः!! कृष्ण को समझना है तो जरूर पढ़ें