भारतीय रेलवे की 83 महिला आरपीएफ सब-इंस्पेक्टर कैडेट ने सफलतापूर्वक पूरा किया प्रशिक्षण

विभिन्न जोनल रेलवे से संबंधित 83 महिला सब-इंस्पेक्टर कैडेट (बैच नंबर 9ए) की पासिंग आउट परेड आज यानी 10 अगस्त, 2020 को रेलवे सुरक्षा बल (आरपीएफ) के प्रशिक्षण केंद्र, मौला-अली में आयोजित की गई।


चंचल शेखावत को ‘बेस्ट कैडेट’ एवं ‘इंडोर में सर्वश्रेष्ठ’ और स्मृति बिस्वास को ‘बेस्ट इन आउटडोर’ चुना गया। परेड की कमान सुश्री चंचल शेखावत ने संभाली।


इस अवसर पर गजानन माल्‍या ने महिला सब-इंस्पेक्टरों को रेलवे की संपत्ति और रेल यात्रियों की सुरक्षा के लिए पूरे समर्पण भाव के साथ काम करने और अपने कर्तव्‍यों का निर्वहन करने की सलाह दी। उन्‍होंने कहा कि समाज के कमजोर तबकों, महिलाओं एवं बच्‍चों का ध्‍यान रखने पर विशेष फोकस करना चाहिए क्‍योंकि महिलाओं एवं बच्‍चों की तस्‍करी बढ़ती जा रही है। उन्‍होंने युवा कैडेटों के उज्‍ज्‍वल भविष्‍य की कामना की और उल्‍लेखनीय कार्य-प्रदर्शन के लिए महिला एसआई कैडेटों को बधाई भी दी तथा इसके साथ ही यह मंगल कामना की कि वे अत्यंत प्रोफेशनल ढंग से एवं करुणा भाव के साथ अपने कर्तव्यों का पालन करेंगी।


इन सब-इंस्पेक्टर कैडेटों को रेलवे में आने वाली चुनौतियों का सामना करने के लिए इंडोर और आउटडोर विषयों में 9 महीनों तक कठोर प्रशिक्षण दिया गया है और अंतिम परीक्षा पास करने के बाद आज उन्होंने इस अत्‍यंत आकर्षक परेड में भाग लिया और शपथ लेने के बाद वे रेलवे सुरक्षा बल की सदस्य बन गई हैं।


यह परेड कोविड-19 से संबंधित सभी औपचारिकताओं को पूरा करने के साथ-साथ सामाजिक दूरी बनाए रखने के नियम का पालन करते हुए आयोजित की गई।


Popular posts from this blog

स्वस्थ जीवन मंत्र : चैते गुड़ बैसाखे तेल, जेठ में पंथ आषाढ़ में बेल

या देवी सर्वभू‍तेषु माँ गौरी रूपेण संस्थिता।  नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नम:।।

!!कर्षति आकर्षति इति कृष्णः!! कृष्ण को समझना है तो जरूर पढ़ें