नियम बदलने का नहीं, रोजगार देने का था वादा - प्रदेश अध्यक्ष सभाजीत सिंह


लखनऊ। आम आदमी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष सभाजीत सिंह ने कहा कि भाजपा के मोदी योगी ने युवाओं को रोजगार देने का वादा किया था लेकिन काम रोजगार छीनने का कर रहे हैं। मोदी की केंद्र सरकार के श्रम मंत्रालय नई भर्तियों पर रोक लगा दी है और प्रदेश की योगी सरकार 5 साल की संविदा पर नियुक्तियों की साजिश रच रही है। इससे युवाओं के शोषण और भ्रष्टाचार को बढ़ावा मिलेगा।


प्रदेश अध्यक्ष रविवार को अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त कर रहे थे। उन्होंने कहा कि मिली जानकारी के मुताबिक प्रदेश की योगी सरकार समूह ‘ख’ व समूह ‘ग’ की भर्ती प्रक्रिया में बड़े बदलाव की साजिश रच रही है।नई व्यवस्था में चयनित अभ्यर्थियों को शुरुआती पांच वर्ष तक संविदा पर रखा जाएगा। नौकरी के शुरुआती 5 वर्ष तक वो ना तो नियमित होंगे और न ही इस दौरान उनको नियमित सरकारी कर्मचारियों को मिलने वाले सेवा संबंधी सारे लाभ ही मिलेंगे।इन 5 वर्षों में अधिकारी मनमाने तरीके से उनसे काम लेंगे और उन पर नौकरी जाने की तलवार हमेशा लटकी रहेगी । 


मीडिया में छपी खबरों में कहा जा रहा है कि इन पांच वर्षों के दौरान हर छह महीने पर संविदा कर्मियों के काम का मूल्यांकन किया जाएगा और प्रतिवर्ष मूल्यांकन में 60 प्रतिशत से कम अंक पाने वाले कर्मी सेवा से बाहर कर दिया। सरकार का दावा है कि जो पांच वर्ष की सेवा तय शर्तों के साथ पूरी करेंगे, उनको ही परमानेंट नौकरी भी जाएगी। 


प्रदेश अध्यक्ष सभाजीत सिंह ने  सवाल उठाया कि इन 5 वर्षों के दौरान नियमित नौकरी की चाह में युवा अधिकारियों का गुलाम बनकर रह जाएगा। आम आदमी पार्टी युवाओं का शोषण बर्दाश्त नहीं करेगी मोदी योगी सरकार की युवाओं के शोषण की साजिश सफल नहीं होने दी जाएगी।


Popular posts from this blog

अनेक बातें जो हम समझ नहीं पाते

मुख्य सचिव की अध्यक्षता में आॅनलाईन ट्रांसफर सिस्टम विकसित किये जाने की प्रगति की समीक्षा बैठक की गई संपन्न

पीसीएस मणि मंजरी राय आत्महत्या मामले में नया खुलासा, ड्राइवर गिरफ्तार