सभी मृत्यु का सघनता से किया जाए डेथ ऑडिट - जिलाधिकारी

 


लखनऊ। स्मार्ट सिटी सभागार में कोविड़-19 के नियंत्रण के सम्बंध में एक महत्वपूर्ण  बैठक सम्पन्न हुई। बैठक में  जिलाधिकारी द्वारा सर्वप्रथम कांटैक्ट ट्रेसिंग की समीक्षा की गई। जिसमें सभी CHC को निर्देश दिया गया कि वह RRT टीमो के माध्यम से युद्धस्तर पर कांटैक्ट ट्रेसिंग का कार्य कराना सुनिश्चित कराए। साथ ही कोम ऑर्बिट लोगो का RTPCR और एन्टीजन टेस्ट कराना सुनिश्चित कराए।


बैठक में जिलाधिकारी द्वारा निर्देश दिया गया कि ILI/SARI के लक्षण वाले किसी भी रोगी को होम आईसोलेशन की अनुमति नही दी जाए। उनको तत्काल हास्पिटलो में भर्ती कराना सुनिश्चित किया जाए ताकि जनहानि को होने से रोका जा सके। ILI/SARI के लक्षण वाले सभी रोगियों का एन्टीजन व RTPCR दोनों टेस्ट कराना सुनिश्चित किया जाए। यदि ILI/SARI के लक्षण वाले व्यक्ति का एन्टीजन नेगटिव आता है फिर भी उसका RTPCR टेस्ट कराया जाए। समस्त CHC को निर्देश दिया गया कि सभी CHC ILI/SARI के लक्षण वाले लोगों की ट्रेसिंग 4 गुना बढ़ाना सुनिश्चित कराए।होम आईसोलेशन से कितने लोगों को हास्पिटलो में शिफ्ट कराया और कितने लोग होम आईसोलेशन की अवधि पूरी करके स्वस्थ्य हुए है इसका पूरा ब्यौरा प्रतिदिन उपलब्ध कराया जाए।


बैठक में जिलाधिकारी द्वारा डेथ ऑडिट की भी समीक्षा की गई। जिलाधिकारी ने निर्देश दिया कि सभी मृत्यु का सघनता के साथ ऑडिट करना सुनिश्चित किया जाए और यदि किसी भी रोगी की मृत्यु में किसी हास्पिटल की लापरवाही सामने आती है तो तुरन्त उस हास्पिटल के विरुद्ध कार्यवाही की जाए।


    


Popular posts from this blog

अनेक बातें जो हम समझ नहीं पाते

मुख्य सचिव की अध्यक्षता में आॅनलाईन ट्रांसफर सिस्टम विकसित किये जाने की प्रगति की समीक्षा बैठक की गई संपन्न

पीसीएस मणि मंजरी राय आत्महत्या मामले में नया खुलासा, ड्राइवर गिरफ्तार