समाजवादी पार्टी मुख्यालय में शहीद-ए-आजम भगत सिंह की 113वीं जयंती सादगी के साथ मनाई गई


लखनऊ। समाजवादी पार्टी मुख्यालय, लखनऊ में आज शहीद-ए-आजम भगत सिंह की 113वीं जयंती सादगी के साथ मनाई गई। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव की ओर से प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम पटेल ने भगत सिंह के चित्र पर श्रद्धासुमन अर्पित किए।


समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने महान क्रांतिकारी भगत सिंह को नमन करते हुए कहा है कि आजादी के लिए अपनी जान निछावर करने वाले भगत सिंह हर हिन्दुस्तानी के दिल में बसते हैं। वे एक अध्ययनशील विचारक, लेखक भी थे। भारत में समाजवाद के वे पहले व्याख्याता थे। काकोरी काण्ड और बाद में केन्द्रीय असेम्बली में बम का धमाका करने से ब्रिटिश साम्राज्य उनके खून की प्यासी हो गई थी। 23 मार्च 1931 को उन्हें फांसी दे दी गई। भगत सिंह देश के युवाओं के लिए आज भी प्रतीक पुरूष बने हुए हैं।


प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम पटेल ने कहा कि 23 वर्ष की उम्र में भगत सिंह ने फ्रांस, आयरलैण्ड, रूस की क्रांतियों का अध्ययन कर लिया था। वे भारत माता के सच्चे क्रांतिकारी सपूत थे।    


Popular posts from this blog

अनेक बातें जो हम समझ नहीं पाते

पीसीएस मणि मंजरी राय आत्महत्या मामले में नया खुलासा, ड्राइवर गिरफ्तार

मुख्य सचिव की अध्यक्षता में आॅनलाईन ट्रांसफर सिस्टम विकसित किये जाने की प्रगति की समीक्षा बैठक की गई संपन्न