योगी सरकार में हुए कोरोना किट घोटाला के खिलाफ AAP का जबरदस्त विरोध प्रदर्शन


लखनऊ। कोरोना काल में आपदा में अवसर तलाश रही योगी सरकार की ओर से उपकरणों की खरीद में ग्राम पंचायत से लेकर प्रदेश के मेडिकल कॉरपोरेशन तक हुए भ्रष्टाचार और घोटाले की हाईकोर्ट के सिटिंग जज की एसआईटी से जांच कराने की मांग को लेकर आम आदमी पार्टी ने जोरदार प्रदर्शन किया। कार्यकर्ता राजधानी लखनऊ में स्वास्थ्य भवन पर इक्कठे होकर प्रदर्शन कर रहे थे ,सरकार के खिलाफ नारेबाजी कर रहे थे, पुलिस ने  प्रदर्शन को रोकने की कोशिश की और इस दौरान कार्यकर्ताओं और  पुलिस की जमकर झड़प हुई । इसके बाद पुलिस ने सभी कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार कर लिया और इको गार्डन पार्क ले गई ।


कोरोना काल में योगी सरकार के अधिकारियों ने आम जनता की जीवन रक्षा के नाम पर ऑक्सीमीटर,थर्मोमीटर, एनालाइजर, पीपीई किट, सैनिटाइजर,ग्लव्ज समेत अन्य उपकरणों की खरीद की। प्रदेश के ज्यादातर जिलों में ग्राम पंचायतों और नगर पंचायतों के लिए दोगुने से ज्यादा कीमत में खरीद कर जेबे भरी गई।जबकि प्रदेश के कुछ जिलों में कई गुना कीमत में एनालाइजर की खरीद की गई।


प्रदेश के अस्पतालों में उपकरणों और दवाओं की आपूर्ति कराने वाले मेडिकल कॉरपोरेशन की ओर से 400- 500 गुना अधिक दामों पर उपकरणों की खरीद की गई। खुद को राष्ट्रवादी बताने वाली योगी सरकार की ओर से 3,30,000 रुपये में चीन देश में निर्मित उपकरण की खरीद की गई, जो उपकरण भारत में निर्मित सरकारी वेबसाइट पर 1,45,000 में उपलब्ध है। 


पार्टी की मांग है कि निष्पक्ष जांच के लिए हाईकोर्ट के सिटिंग जज के नेतृत्व में एसआईटी गठित की जाए अथवा पूरे मामले को जांच के लिए सीबीआई के हवाले कर दिया जाए।


यूथ विंग लखनऊ मंडल अध्यक्ष कमर अब्बास के नेतृत्व में प्रदर्शन में हुआ । प्रदर्शन में  अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ के प्रदेश उपाध्यक्ष प्रितपाल सिंह सलूजा, यूथ विंग प्रदेश सचिव देश दीपक, जिला अध्यक्ष यूथ विंग ललित कुमार बाल्मीकि, महानगर अध्यक्ष शादाब राईन, यूथ विंग प्रदेश उपाध्यक्ष शहबाज खान,  मनजीत सिंह, जसप्रीत सिंह, हरिशंकर, बृजेश तिवारी, माजिद, अफरोज आलम,  समेत अन्य कार्यकर्ता मौजूद रहे।


Popular posts from this blog

अनेक बातें जो हम समझ नहीं पाते

मुख्य सचिव की अध्यक्षता में आॅनलाईन ट्रांसफर सिस्टम विकसित किये जाने की प्रगति की समीक्षा बैठक की गई संपन्न

पीसीएस मणि मंजरी राय आत्महत्या मामले में नया खुलासा, ड्राइवर गिरफ्तार