यू0पी0 -112 के जवानों ने 57 लोगों की जीवन-रक्षा की


लखनऊ। कोविड-19 से बचाव एवं जागरूकता वृद्धि के साथ - साथ जन-जीवन की रक्षा में  भी यू0पी0 -112 की पी0आर0वी0 पर तैनात जवानों द्वारा उल्लेखनीय कार्य किये जाने का सिलसिला जारी है।


इस वर्ष जून से अगस्त तक बीते 3 माह की अवधि में यू0पी0-112 की पी0आर0वी0 ने पूरे प्रदेश भर में 57 लोगों की जीवन रक्षा कर अपना उल्लेखनीय योगदान दिया है। जीवन रक्षा करने वाले पी0आर0वी0 कर्मियों को यू0पी0-112 की ओर से ‘‘पी0आर0वी0 आॅफ द डे’’ का सम्मान दिया जा रहा है।


अपर पुलिस महानिदेशक, यू0पी0 -112, असीम अरूण ने इस संबध में पी0आर0वी के विभिन्न जवानों द्वारा की गई कार्यवाही का विस्तृत विवरण देते हुये बताया है कि सीतापुर जिले के जिगिनिया शिवराजपुर गाँव के लोग 19 अगस्त की सुबह अपने रोजमर्रा के काम में व्यस्त थे। सुबह करीब पौने सात बजे गाँव के एक किसान के घर की दीवार अचानक गिर गयी। गाँव के लोग भाग कर मौके पर पहुँचे तो देखा कि दीवार के नीचे किसान के 3 बच्चे और कुछ जानवर दब गए हैं। गाँव के लोगों ने मदद के लिए तत्काल यूपी-112 को फोन किया सूचना पर यूपी-112 की पीआरवी 1802 मौके पर पहुँची और दीवार के नीचे दबे बच्चों और जानवरों को ग्रामीणों की मदद से बाहर निकाला और घायल तीनों बच्चों को उपचार के लिए सीएचसी पिसावां में उपचार के लिए भर्ती कराया।


गाजीपुर जिले के मोहम्मदाबाद से 9 जुलाई की सुबह करीब साढ़े आठ बजे एक काॅलर ने यूपी-112 पर कॉल कर के बताया कि एक राहगीर को बाइक सवार लोगों ने गोली मार दी है सूचना पर तत्काल पीआरवी 3187 मौके पर पहुँची तो पाया कि एक युवक लहुलुहान सड़क पर पड़ा है पीआरवी ने घटना की जानकारी स्थानीय बडेसर थाने को देते हुए घायल को 40 किलोमीटर दूर सदर अस्पताल तक ले जाकर उपचार के लिए भर्ती कराया। घायल व्यक्ति अब पूरी तरह स्वस्थ्य हैं।


अम्बेडकरनगर जिले के गाँव रायगंज से 27 जुलाई की शाम करीब सवा चार बजे काॅलर ने यूपी-112 पर कॉल कर के बताया कि उनकी चाची जी को सांप ने काट लिया है सूचना मिलते ही पीआरवी 4004 मौके पर पहुँची तो पाया कि सर्प दंश के कारण महिला दर्द से कराह रही है। पीआरवी कर्मियों ने महिला को तत्काल उपचार के लिए सीएचसी भीटी पहुँचाया। जहाँ उपचार के बाद डाक्टरों ने महिला को खतरे से बाहर बताया।


शामली जिले के दभेड़ी गाँव के पास 15 जून की रात करीब 9.30 बजे एक किसान ट्रैक्टर-ट्राॅली ले कर कहीं जा रहे थे कि अचानक तेज दर्द के साथ किसान बेहोश हो गया। आस-पास मौजूद लोगों ने घटना की जानकारी यूपी-112 को दी, मौके पर तत्काल पीआरवी 3014 पहुची और किसान को उपचार के लिए सीएचसी भवन में भर्ती कराया। वहां मौजूद डाक्टरों ने जीवनरक्षक दवाएं देकर किसान का उपचार किया और बताया कि इनको हार्ट अटैक हुआ है पीआरवी की तत्परता और डाॅक्टरों के सहयोग से किसान की जान बचायी जा सकी।


सुल्तानपुर जिले के पलहीपुर गाँव के एक व्यक्ति ने 19 जुलाई की सुबह किसी काम से गाँव के ही तालाब में उतरा था। तालाब में पानी अधिक होने के कारण अचानक ग्रामीण डूबने लगा, आस-पास मौजूद लोगों ने घटना की जानकारी तत्काल यूपी-112 को दी, गाँव के पास ही गश्त कर रही पीआरवी तुरंत मौके पर पहुंची और डूब रहे व्यक्ति को गाँव वालों की मदद से तालाब से बाहर निकाल कर उपचार के लिए जिला अस्पताल भिजवाया, उपचार के बाद डाॅक्टर ग्रामीण की जान बचाने में सफल रहे।


Popular posts from this blog

अनेक बातें जो हम समझ नहीं पाते

पीसीएस मणि मंजरी राय आत्महत्या मामले में नया खुलासा, ड्राइवर गिरफ्तार

मुख्य सचिव की अध्यक्षता में आॅनलाईन ट्रांसफर सिस्टम विकसित किये जाने की प्रगति की समीक्षा बैठक की गई संपन्न