हाथरस कांड : आरोपियों ने एसपी को लिखी चिट्ठी

हाथरस। उत्तर प्रदेश के हाथरस में हुए गैंगरेप का मामला अब एक अलग ही रुख लेता जा रहा है। इस मामले में जहां  उच्च स्तर की राजनीति हो रही हैं वहीं आरोपियों का कहना है कि वह निर्दोष हैं और मामला ऑनर किलिंग का है। 


मामले के मुख्य आरोपी संदीप ठाकुर ने हाथरस के पुलिस अधीक्षक को लिखी चिठ्ठी में कहा, उसे झूठे केस में मृतक लड़की के परिजनों ने ही फंसाया है। वह लड़की को जानता था। दोनों के बीच अच्छी दोस्ती थी। इस बात को लड़की का परिवार पसंद नहीं करता था। घटना के दिन पीड़िता ने मुझे मिलने के लिए खेत में बुलाया था, जब मैं वहां गया तो पीड़िता के साथ उसकी मां और भाई मौजूद थे।


संदीप ने कहा कि पीड़िता के कहने पर मैं अपने घर चला गया। अपने पिता के साथ पशुओं को पानी पिला रहा था, तभी मुझे खबर मिली कि पीड़िता की मां और उसके भाई ने पिटाई की है। उसे गंभीर चोट आई थी। बाद में उसकी मौत हो गई। संदीप ने कहा कि मैंने कभी भी पीड़िता को मारा नहीं है और न ही कोई गलत काम उसके साथ किया।


संदीप ने अपनी चिठ्ठी में कहा कि हम निर्दोष हैं और रवि और शमू को भी इस मामले में फंसाया जा रहा है। उसने इस मामले में एक निष्पक्ष जांच की मांग की है। हाथरस जेल अधीक्षक ने चिट्ठी लिखे जाने की पुष्टि की है। वहीं पीड़िता के परिवार ने इलाहाबाद हाईकोर्ट में याचिका दायर कर दावा किया है कि जिला प्रशासन ने अवैध रूप से उन्हें उनके घर में कैद कर रखा है।


Popular posts from this blog

अनेक बातें जो हम समझ नहीं पाते

पीसीएस मणि मंजरी राय आत्महत्या मामले में नया खुलासा, ड्राइवर गिरफ्तार

मुख्य सचिव की अध्यक्षता में आॅनलाईन ट्रांसफर सिस्टम विकसित किये जाने की प्रगति की समीक्षा बैठक की गई संपन्न