जो भी मास्क का प्रयोग नहीं कर रहे है उनका चालान किया जाए - अपर मुख्य सचिव सूचना


लखनऊ। उत्तर प्रदेश के अपर मुख्य सचिव सूचना नवनीत सहगल ने प्रेस प्रतिनिधियों को सम्बोधित करते हुए कहा कि कोविड-19 के संक्रमण की सूचना यथाशीघ्र दी जाए। जानकारी से प्राप्त हुआ है कि संक्रमित होने के बाद लोग देरी से सूचना दे रहे है, जिससे ईलाज में अत्यधिक जटिलताओं का सामान करना पड़ता है। समय पर डाॅक्टर परामर्श व तत्काल जांच कराए। उन्होंने बताया कि प्रदेश में हाॅटस्पाट के क्षेत्रों में कमी आ रही है तथा कन्टेनमेंट जोन में लगातार गिरावट हो रही है। अब लगभग प्रदेश में लगभग 15,706 कन्टेनमेंट जोन है। उन्होंने बताया कि प्रदेश में संक्रमण की संख्या कम हो रही है। उन्होंने बताया कि मास्क पहनना अनिवार्य है इसके लिए पुलिस को सख्त निर्देश दिये है जो भी मास्क का प्रयोग नहीं कर रहे है उनका चालान किया जाए।


श्री सहगल ने बताया कि कोरोना की वजह से जो आर्थिक गतिविधियाॅ प्रभावित हुयी थी। वह पुनः संचालित कराने का प्रयास हो रहा है। बैंको के माध्यम से आत्मनिर्भर पैकेज में ईकाईयों को ऋण की सुविधा उपलब्ध हो रही है। लघु, सूक्ष्म, मध्यम एवं वृहद श्रेणी की 8.18 लाख इकाईयां क्रियाशील हैं जिसमें 51.78 लाख श्रमिक कार्यरत हैं। उन्होंने बताया कि आत्मनिर्भर उ0प्र0 रोजगार/स्वरोजगार सृजन अभियान में 14 मई से अब तक 4.20 लाख नई एमएसएमई इकाईयों को रूपये 14,071 करोड़़ का ऋण वितरण किया गया है। उन्होंने बताया कि प्रदेश में 4.34 लाख इकाईयों को आत्मनिर्भर पैकेज के अन्तर्गत रूपये 10.560 करोड़ के ऋण स्वीकृत कर वितरित किये गये हैं। उन्होंने बताया कि प्रदेश में स्थापित औद्योगिक इकाईयों (जहां कर्मचारियों की संख्या 20 से अधिक है) के परिसर में 41,832 कोविड हेल्प डेस्क की स्थापना की जा चुकी है। इनमें 38,907 आक्सीमीटर तथा 39,456 थर्मोमीटर उपलब्ध हैं। प्रदेश में 63,162 काॅमन सर्विस सेन्टर (जन सुविधा केन्द्र) क्रियाशील हैं, जिनमें 1,26,324 व्यक्ति कार्यरत है।


किसानों के लिए सरकार विशेष प्रयास कर रही है। धान क्रय का कार्य बहुत तेजी से चल रहा हैं। प्रदेश में 4000 धान क्रय केन्द्र स्थापित किये गये है। प्रदेश सरकार द्वारा खरीफ क्रय वर्ष 2020-21 के अन्तर्गत गत् वर्ष के सापेक्ष इस वर्ष अब तक किसानों से लगभग 10 गुना से ज्यादा धान की खरीद सुनिश्चित की गयी है। किसानों को जागरूक किया जाए कि अपना धान सूखाकर व साफ कर क्रय केन्द्रों पर लाये।


अपर मुख्य सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि प्रदेश में कोविड-19 टेस्टिंग का कार्य तेजी से किया जा रहा है। प्रदेश में कल एक दिन में अब तक का सर्वाधिक कुल 1,56,336 सैम्पल की जांच की गयी। प्रदेश में अब तक कुल 1,10,44,860 सैम्पल की जांच की गयी है। उन्होंने बताया कि प्रदेश में पिछले 24 घंटे में कोरोना सेे संक्रमित 3,663 नये मामले आये हैं। प्रदेश में पिछले 24 घंटे में 4,432 व्यक्ति उपचारित होकर डिस्चार्ज किये गये हैं। अब तक कुल 3,70,753 लोग पूर्णतया उपचारित होकर डिस्चार्ज किये गये। प्रदेश में रिकवरी का प्रतिशत अब बढ़कर 88.07 है। उन्होंने बताया कि प्रदेश में 44,031 कोरोना के एक्टिव मामले हैं। उन्होंने बताया कि होम आइसोलेशन में 20,647 लोग हैं। उन्होंने बताया कि निजी चिकित्सालयों में 3,513 लोग ईलाज करा रहे हैं। उन्होंने बताया कि प्रदेश में सर्विलांस टीम के माध्यम से 1,32,391 क्षेत्रों में 4,03,851 सर्विलांस टीमों के माध्यम से 2,62,60,522 घरों के 12,99,63,786 जनसंख्या का सर्वेक्षण किया गया है। उन्होंने बताया कि प्रदेश में ई-संजीवनी पोर्टल के माध्यम से पिछले 24 घन्टे में 2050 लोगों ने चिकित्सकीय परामर्श प्राप्त किया है। अब तक 1,19,347 लोग ई-संजीवनी पोर्टल द्वारा चिकित्सकीय परामर्श प्राप्त कर चुके हैं। उन्होंने बताया कि नाॅन कोविड सभी चिकित्सालयों पर ओ0पी0डी0 प्रारम्भ हो चुकी है। अगर किसी व्यक्ति को किसी भी प्रकार की स्वास्थ्य संबंधी समस्या महसूस होती है तो वह अपने नजदीकी चिकित्सालय में चिकित्सीय ईलाज व परामर्श ले सकता है।


Popular posts from this blog

अनेक बातें जो हम समझ नहीं पाते

पीसीएस मणि मंजरी राय आत्महत्या मामले में नया खुलासा, ड्राइवर गिरफ्तार

मुख्य सचिव की अध्यक्षता में आॅनलाईन ट्रांसफर सिस्टम विकसित किये जाने की प्रगति की समीक्षा बैठक की गई संपन्न