सरेआम प्रसाशन के सामने हत्या कर खोली योगीराज के कानून व्यवस्था की पोल - सभाजीत सिंह 


बलिया। बलिया में सरेआम बीजेपी नेता द्वारा की गयी हत्या पर आम पार्टी के प्रदेश अध्य्क्ष ने सूबे में बिगड़ी कानून वव्यस्था पर सवाल उठाये है।  उन्होंने कहा की एसडीएम और सीओ के पीठ पीछे नहीं बल्कि उनकी मौजूदगी में हत्या हो जाती है और ये अधिकारी केवल मूकदर्शक बने रहते है। अधिकारियो के  इस रवैये के चलते ये भी उस हत्याकांड में उतने ही दोषी है जितना वो बीजेपी का नेता।  इसलिए इन अधिकारियो के खिलाफ भी हत्या का मामला दर्ज होना चाहिए। उन्होंने मांग की इस मामले की निष्पक्ष जांच होनी चाहिए और दोषियों को बक्शा नहीं जाना चाहिए।


उन्होंने आगे कहा की बलिया में मारे गए युवक जयप्रकश पाल की हत्या साफ़ बताती है की प्रदेश में दलित और पिछडो के खिलाफ हो रहे अपराधों को रोकने में योगी सरकार किस बुरी तरह नाकाम रही है। दलितों और पिछडो के खिलाफ बढ़ रहे अपराधों के ग्राफ से योगी सरकार का इकबाल लगतार गिर रहा है। 


Popular posts from this blog

अनेक बातें जो हम समझ नहीं पाते

मुख्य सचिव की अध्यक्षता में आॅनलाईन ट्रांसफर सिस्टम विकसित किये जाने की प्रगति की समीक्षा बैठक की गई संपन्न

पीसीएस मणि मंजरी राय आत्महत्या मामले में नया खुलासा, ड्राइवर गिरफ्तार