वरासत संबंधित विशेष अभियान के तहत जनपद में निस्तारित किए गए कुल 269 प्रकरण


लखनऊ। जिलाधिकारी अभिषेक प्रकाश ने बताया कि खतौनी में दर्ज खातेदारों की मृत्यु/ऐसी स्त्री जिसने उत्तराधिकार में भूमि प्राप्त की है, के विवाहित/ पुनर्विवाह होने की दशा में उनके निर्विवादित उत्तराधिकारियों के नाम समय से खतौनी में अंकित किए जाने के पूर्व में निर्देश दिए गए थे।


जिसके क्रम में तहसील स्तर पर राज्य अभिलेखों को अद्यतन रखने के दृष्टिकोण से राजस्व प्रशासन के स्तर से निर्विवाद उत्तराधिकारीयों के नाम खतौनी में दर्ज करने हेतु दिनांक 5 अक्टूबर 2020 से 12 अक्टूबर 2020 तक उपजिलाधिकारियों के नेतृत्व में एक विशेष अभियान चलाने के निर्देश दिए गए। इस अभियान के दौरान प्रत्येक राजस्व ग्रामवार निर्विवाद उत्तराधिकार/वरासत के लंबित प्रकरणों की समीक्षा करते हुए लंबित प्रकरणों का निस्तारण सभी उपजिलाधिकारी द्वारा सुनिश्चित कराया गया। आज अभियान के दूसरे दिन आज तक जनपद की समस्त पांचों तहसीलों में कुल 269 वरासत दर्ज कराई गई। 


Popular posts from this blog

अनेक बातें जो हम समझ नहीं पाते

पीसीएस मणि मंजरी राय आत्महत्या मामले में नया खुलासा, ड्राइवर गिरफ्तार

मुख्य सचिव की अध्यक्षता में आॅनलाईन ट्रांसफर सिस्टम विकसित किये जाने की प्रगति की समीक्षा बैठक की गई संपन्न