लखनऊ महानगर में "कांग्रेस" ध्वस्त, तमाम पदाधिकारी हुए "आप" में शामिल


लखनऊ। आम आदमी पार्टी ने प्रदेश में कांग्रेस को तगड़ा झटका दिया है| आज पार्टी की नीतियों और नेतृत्व से प्रभावित होकर अखिल भारतीय कांग्रेस समिति वरिष्ट सदस्य अमित श्रीवास्तव "त्यागी" की अगुवाई में  लखनऊ और आसपास के ज़िलों के तमाम वरिष्ठ कांग्रेसी नेताओ ने आम आदमी पार्टी का दामन थाम लिया| प्रदेश प्रभारी और राज्य सभा सांसद संजय सिंह ने टोपी व पटका पहनाकर सभी का पार्टी में स्वागत किया।


AICC सदस्य अमित श्रीवास्तव "त्यागी" कांग्रेस, युथ कांग्रेस और NSUI के लखनऊ महानगर अध्य्क्ष भी रहे है| अमित श्रीवास्तव अखिल भारतीय कायस्थ महासभा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष और उत्तर प्रदेश प्रभारी भी है| इनके साथ ही बीजेपी के अजीत भदौरिया, रिया सिंह और रोहित सोनी ने आम आदमी पार्टी का हाथ थाम लिया| इस मौके पर प्रेस वार्ता के दौरान प्रदेश प्रभारी व राज्यसभा सांसद संजय सिंह ने कहा की लखनऊ में आज लगभग पूरी कांग्रेस पार्टी आम आदमी पार्टी में शामिल हो गयी|


उन्होंने आगे कहा की आज दिल्ली की आम आदमी पार्टी विकास मॉडल बिजली, पानी, शिक्षा, स्वास्थ्य से प्रभाविक होकर आज कांग्रेस पार्टी के पुराने व कई मजबूत साथी आम आदमी पार्टी परिवार का हिस्सा बन रहे है आप सभी साथियों का इस परिवार में हृदय से स्वागत है। उन्होंने किसानों की वर्तमान स्थिति का जिक्र करते हुए कहा कि मोदी के राज में आज जिस तरीके से देश के अन्नदाताओं के साथ व्यवहार किया जा रहा है इसे देख ऐसा प्रतित होता है मानों वो किसान हमारे देश के नागरिक नहीं है, बल्कि कोई आंतकवादी हो। इस कड़कराती ठंड में उन पर वाटर कैनन का इस्तेमाल किया जा रहा है, उन्हें पीटकर जेल में डाला जा रहा है।


उन्होंने बताया कि किसानों को गिरफ्तार करके रखने के लिए मोदी सरकार ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के 10 स्टेडियम मांगे थे, लेकिन अरविंद केजरीवाल ने उन्हें स्टेडियम देने से साफ मना कर दिया और कहा कि हम दिल्ली आ रहे किसानों का स्वागत करेंगे, उन्हें लाठियों व जेल में डालने का नहीं करेगे। उन्होंने कहा मोदी की सरकार में आज देश का किसान जायज मांगों को लेकर आंदोलन नहीं करता। किसानों के लिए बने बिल के खिलाफ मैंने संसद में आंनदोलन किया था, तो मुझे निलंबित कर दिया गया। मैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से पूछाना चाहता हूं के देश के अन्नदाता किसानों ने आपको इसी दिन के लिए वोट देकर प्रधानमंत्री बनाया था?  दिल्ली में बैठी मोदी सरकार को ये तीनों काला कानून वापस लेना चाहिए। 


उन्होंने कहा आम आदमी पार्टी की मांग है कि संसद का एक विशेष सत्र बुलाया कर अल्पमत में रहते हुए, धनमत से जबरन संविधान की मर्यादा को तारतार करते हुए जो किसानी बिल पास किया गया है वो काला कानून बिल वापस लिया जाये। अमित श्रीवास्तव ने कहा कि कांग्रेस पार्टी अपनी नीतियों व विचारधाराओं को निरंतर खोती जा रही है जिसकी वजह से आज 22 वर्षों बाद कांग्रेस पार्टी से त्याग पत्र देने का फैसला किया। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल व संजय सिंह की नेतृत्व में आम हमने आम आदमी पार्टी से शामिल होने का फैसला किया। हमें बेहद खुशी है कि आज हमने एक ऐसी पार्टी से जुड़ रहे है जिसने दिल्ली में बीजेपी को सत्ता से हटाने का काम किया और अब उत्तर प्रदेश में भी योगी की तानाशाह सरकार के खिलाफ बिगुल फूक दिया है। उन्होंने कहा आगामी जिला पंचायत विधानसभा चुनाव में संजय सिंह के नेतृत्व में पूरी मेहनत व ईमानदारी से काम करेंगे और योगी सरकारक की सत्ता को जड़ से उखाड़ फेंकेंगे। हम चाहते है की दिल्ली की जनता की तरह ही उत्तर प्रदेश की जनता को भी मुफ्त बिजली पानी, स्वस्थ जैसी सुविधाएं मिले।


Popular posts from this blog

अनेक बातें जो हम समझ नहीं पाते

पीसीएस मणि मंजरी राय आत्महत्या मामले में नया खुलासा, ड्राइवर गिरफ्तार

मुख्य सचिव की अध्यक्षता में आॅनलाईन ट्रांसफर सिस्टम विकसित किये जाने की प्रगति की समीक्षा बैठक की गई संपन्न