मासूम "किया" की असमय मृत्यु पर एनपीए ने दी श्रद्धांजलि


 

लखनऊ। "किया" की असमय मृत्यु पर नवभारत पत्रकार एसोसिएशन ने दु:ख व्यक्त करते हुए श्रद्धांजलि अर्पित किया। एसोसिएशन के राष्ट्रीय प्रवक्ता नैमिष प्रताप सिंह ने कहा कि असमय मौत बहुत दु:ख देती है। किया जिसकी आयु मात्र छह वर्ष की थी और उसकी मृत्यु होना बेहद दु:खद है। जिस  बच्ची  के खेलने - कूदने की आयु थी, जिसे अभी लंबा जीवन जीना था, उसका बिछुड़ना वेदनापूर्ण है लेकिन विधि के विधान को कौन टाल सकता है? आज केवल किया का परिवार ही नहीं बल्कि हम सभी दु:खी है।

 

नैमिष प्रताप सिंह ने बताया कि लोकसभा में प्रयागराज का प्रतिनिधित्व करने वाली प्रोफेसर रीता बहुगुणा जोशी की एकलौती पौत्री "किया" दीपावली के दिन अपने ननिहाल गई हुई थी जहाँ पटाखे जलाते समय वह बुरी तरह से झुलस गई थी। उसका निजी चिकित्सालय में इलाज चल रहा था। लगभग 60% ज्यादा झुलसी किया को एयर एंबुलेंस से चिकित्सा के लिए दिल्ली जाना था लेकिन यह मासूम मौत के क्रूर हाथों से पराजित हो गई। 

 

प्रस्तुति : जितेन्द्र झा

Popular posts from this blog

अनेक बातें जो हम समझ नहीं पाते

पीसीएस मणि मंजरी राय आत्महत्या मामले में नया खुलासा, ड्राइवर गिरफ्तार

मुख्य सचिव की अध्यक्षता में आॅनलाईन ट्रांसफर सिस्टम विकसित किये जाने की प्रगति की समीक्षा बैठक की गई संपन्न