नगर-नगर, डगर-डगर, गांव-गांव, गली-गली- उ0प्र0 कांग्रेस चली - अजय कुमार लल्लू


 

लखनऊ। उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने पूरे प्रदेश में सरकार द्वारा संचालित गौशालाओं में चारे-पानी और रखरखाव के अभाव में भूख, प्यास और भीषण ठण्ड से सैंकड़ों की संख्या में असमय गौमाताएं मर रही हैं और बीमार-जिन्दा गौ माताओं को जंगली जानवर व कुत्ते नोच-नोच कर खा रहे हैं, बहुत ही पीड़ादायक, मार्मिक और दर्दनाक वीडियो सोशल मीडिया में जो वायरल हो रहे हैं वह योगी सरकार के गाय प्रेम के ढोंग को उजागर कर रहे हैं।

इसी पीड़ा को लेकर तथा बुन्देलखण्ड में किसानों की समस्याओं को लेकर विगत 26 दिसम्बर को ललितपुर से गौमाता की अस्थियों को लेकर चित्रकूट लाकर पवित्र मंदाकिनी नदी में विसर्जित करने हेतु प्रदेश कंाग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने पदयात्रा शुरू किया था जिसे तानाशाही तरीके से भाजपा की योगी सरकार ने अलोकतांत्रिक तरीके से प्रदेश कंाग्रेस अध्यक्ष को गिरफ्तार कर उनके साथ सैंकड़ों कार्यकर्ताओं और पदाधिकारियों को गिरफ्तार कर लिया और उन्हें लखनऊ लाकर उनके आवास पर नजरबन्द कर पुलिस का पहरा बैठा दिया गया। लेकिन कांग्रेस कार्यकर्ता और बुन्देलखण्ड की जनता ने उसी भावना और संवेदना के साथ ललितपुर, झांसी, उरई, हमीरपुर और आज गाय माता की सुरक्षा और किसानों की समस्याओं को लेकर महोबा में पदयात्रा निकाल रहे थे जिसे योगी सरकार के इशारे पर पुलिस प्रशासन ने बर्बर लाठीचार्ज कर सैंकड़ों कांग्रेसजनों को गिरफ्तार कर लिया।

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने मुख्यमंत्री आदित्यनाथ से पूछा है कि आखिर में गौ माता की सुरक्षा और परेशान हाल किसानों की समस्याओं पर चर्चा करने पर आपकी सरकार अपना आपा क्यों खो देती है? जबकि गौ सुरक्षा के नाम पर खुद आप और आपकी सरकार दिखावा करती रहती है। वहीं हर तरह से परेशान हाल किसान जो आपके अन्यायपूर्ण शासन और उपेक्षा के चलते अपनी समस्याओं से त्रस्त है आपकी लाख घोषणा के बाद न ही वर्षों से बकाये गन्ना मूल्य का भुगतान हो पा रहा है, न किसानों की धान खरीद सुनिश्चित हो पा रही है जबकि इसी अवसर पर गांव में घूम रहे दलाल उन किसानों की खतौनी लेकर जिन्होने एक दाना धान की बुआई नहीं की है आपके सरकारी तंत्र में सैंकड़ों कुन्तल धान बेंच रहे हैं और मुनाफाखोरी कर रहे हैं जबकि वास्तविक किसानों की फसलें घरों पर पड़ी हैं या औने-पौने दामों पर मजबूरीवश सेठ-साहूकारों के हाथों बेंचने को विवश हैं।
कांग्रेस पार्टी ने अपनी पार्टी के 136वें स्थापना दिवस के अवसर पर यह निर्णय लिया था कि पार्टी के कार्यकर्ता तीन दिन तक 28, 29 एवं 30 दिसम्बर तक प्रदेश के सभी जनपदों में, हर विधानसभाओं में गांव-गांव, गली-गली, नगर-नगर-डगर-नगर, तक पहुंचेंगे और गौ सुरक्षा व किसानों की समस्या को लेकर संवाद स्थापित करेंगे और इन समस्याओं को दूर करने के लिए सरकार को जगाने का काम करेंगे। सरकार के तमाम तानाशाही रवैये, पुलिसिया बर्बरता एवं उत्पीड़न के बावजूद प्रदेश भर में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने जिलों-जिलों और विधानसभाओं में पदयात्राएं निकालीं।
 
श्री लल्लू ने कहा कि गौ माता की सुरक्षा और किसानों की समस्याओं के समाधान होने तक कांग्रेस का एक-एक कार्यकर्ता समूचे उत्तर प्रदेश में जहां-जहां ललितपुर जैसी घटनाएं सामने आयेंगीं उसको सरकार के समक्ष उठाने का और समस्याओं के निदान के लिए सरकार और प्रशासन के हर जुल्म और ज्यादती को सहकर गाय बचाने और किसान बचाने के लिए अपने जान तक देने के लिए तैयार है। कांग्रेस पार्टी किसानों और गायों को बचाने के लिए दृढ़ संकल्पित है, इसके लिए सड़क से लेकर सदन तक कांग्रेस पार्टी संघर्ष करती रहेगी।

Popular posts from this blog

अनेक बातें जो हम समझ नहीं पाते

मुख्य सचिव की अध्यक्षता में आॅनलाईन ट्रांसफर सिस्टम विकसित किये जाने की प्रगति की समीक्षा बैठक की गई संपन्न

यूपी में पंचायत चुनाव को लेकर राज्य निर्वाचन आयोग ने शुरू की तैयारियां