आगामी 2022 का विधानसभा चुनाव लड़ेगी आम आदमी पार्टी - अरविंद केजरीवाल

 


लखनऊ। आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक एवं दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि आम आदमी पार्टी उत्तर प्रदेश में आगामी 2022 का विधानसभा चुनाव लड़ेगी। यूपी के लोग भी दिल्ली की तरह मुफ्त बिजली, अच्छी शिक्षा और स्वास्थ्य सुविधाएं चाहते हैं। गंदी राजनीति और भ्रष्ट नेता, यूपी को प्रगति की राह पर चलने से रोक रहे हैं। इसीलिए यूपी में स्वास्थ्य, शिक्षा और बिजली जैसी बुनियादी सुविधाओं का बुरा हाल है।  

आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक एवं दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि हमने जन आंदोलन से पार्टी बनाई थी। हमने कभी सपने में भी नहीं सोचा था कि देश भर से लोगों का इतना प्यार और इतना विश्वास मिलेगा। इन 8 सालों में आपकी पार्टी ने दिल्ली में तीन बार सरकार बनाई है और पंजाब में मुख्य विपक्ष के रूप में उभर कर आई है, लेकिन आज मैं एक महत्वपूर्ण ऐलान करने जा रहा हूं। आम आदमी पार्टी आने वाले 2022 के विधानसभा चुनाव में उत्तर प्रदेश में चुनाव लड़ेगी। दिल्ली में यूपी के बहुत भाई-बहन रहते हैं। दिल्ली में रहने वाले कई यूपी के लोग मेरे पास आए। यूपी से भी बहुत सारे लोग और बहुत सारे संगठन हमारे पास आ रहे हैं और कह रहे है कि हमें यूपी का चुनाव लड़ना चाहिए। जो आपने दिल्ली में सुविधाएं दी हैं, वह सुविधाएं यूपी में रहने वाले हमारे भाई-बहनों को भी मिलना चाहिए। मैंने उनसे पूछा कि हमारी छोटी सी पार्टी है, यह कैसे करेगी? इस पर उन्होंने कहा कि यूपी की जनता इन पुरानी पार्टियों से बिल्कुल त्रस्त हो चुकी है। यूपी के लोग ही आगे आएंगे। आम आदमी पार्टी के साथ जुड़ेंगे और यूपी को अपनी जागीर समझने इन वाले बड़े-बड़े नेताओं को हराएंगे। 

‘आप’ संयोजक अरविंद केजरीवाल ने कहा कि यूपी में हर पार्टी की सरकार आई है, लेकिन अपने घर भरने के सिवाय किसी ने यूपी के लिए कुछ नहीं किया। आज छोटी-छोटी सुविधाओं के लिए यूपी के लोगों को दिल्ली क्यों आना पड़ता है। अगर कानपुर में रहने वाले किसी परिवार के बच्चे को अच्छा कॉलेज चाहिए, तो उसे दिल्ली भेजना पड़ता है। गोरखपुर में रहने वाले किसी गरीब परिवार को अपने माता-पिता का इलाज करवाना है, तो उसे दिल्ली आना पड़ता है। आखिर क्यों? क्या भारत का सबसे बड़ा राज्य भारत का सबसे बड़ा विकासशील और विकसित राज्य नहीं बन सकता है। मैं पूछना चाहता हूं कि अगर दिल्ली के संगम विहार में मोहल्ला क्लिनिक बन सकता है, तो क्या लखनऊ के गोमती नगर में नहीं बना सकता है। अगर दिल्ली के सरकारी अस्पताल देश के सबसे बेहतरीन अस्पताल बन सकते हैं, तो यूपी के सरकारी अस्पतालों की हालत इतनी खराब क्यों है? अगर दिल्ली के लोगों को 24 घंटे बिजली मिल सकती है, तो यूपी के लोग इतने लंबे-लंबे पावर कट क्यों बर्दाश्त करें? अगर दिल्ली के लोगों को मुफ्त बिजली मिल सकती है, तो यूपी में लोगों को मुफ्त बिजली क्यों नहीं मिलनी चाहिए? यूपी के लोगों के इतने भारी भरकम बिजली के बिल क्यों आ रहे हैं? अगर दिल्ली के सरकारी स्कूलों में बच्चों को प्राइवेट स्कूलों जैसी सुविधाएं मिल सकती हैं, तो यूपी के सरकारी स्कूल इतने बदहाल क्यों हैं? अगर दिल्ली में महिलाओं की सुरक्षा के लिए हर मोहल्ले में सीसीटीवी कैमरे लगाए जा सकते हैं, तो यूपी में हर दिन हमारी बहनों के साथ दुष्कर्म क्यों होते हैं? यूपी में हमारी बहनों की सुरक्षा सुनिश्चित क्यों नहीं की जा सकती है? आज उत्तर प्रदेश को प्रगति की राह पर चलने से कौन रोक रहा है? यूपी में गंदी राजनीति और भ्रष्ट नेता हैं, जो इसे प्रगति की राह पर चलने से रोक रहे हैं। 

‘आप’ संयोजक अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली के लोगों ने आम आदमी पार्टी को एक मौका दिया था, उन्हें आज आम आदमी पार्टी से इतना प्यार हो गया कि दिल्ली वाले अब बाकी सारी पार्टियों को भूल गए। आप भी आम आदमी पार्टी को एक बार मौका देकर देखिए। मैं यकीन दिलाता हूं कि उत्तर प्रदेश वाले भी बाकी सारी पार्टियों को भूल जाएंगे।

उत्तर प्रदेश प्रभारी व राज्यसभा सांसद संजय सिंह ने कहा कि उत्तर प्रदेश की जनता बदहाली से जूझ रही है। शिक्षा, चिकित्सा, कानून व्यवस्था और रोजगार समेत तमाम समस्याओं से जूझ रही है। प्रदेश की जनता सारी पार्टियों से नाउम्मीद वो चुकी है। एक उम्मीद की नई किरण के रूप में आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल ने उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव लड़ने का एलान किया है। वो सारी सुविधाएं जो दिल्ली की जनता मिल सकती वो उत्तर प्रदेश की जनता को क्यों नहीं मिल सकती? महिलाओं की सुरक्षा के लिए दिल्ली की तरह उत्तर प्रदेश में कैमरे क्यों नहीं लग सकते ? 

उन्होंने कहा इन तमाम बातों को पूरा करने के लिए आम आदमी पार्टी उत्तर प्रदेश में आ रही है। मैं उत्तर प्रदेश की जनता और आम आदमी पार्टी के सभी कार्यकर्ताओं की ओर से अरविंद केजरीवाल को बधाई देना चाहता हूँ । आम आदमी पार्टी पूरी मेहनत और ईमानदारी से जनता की उम्मीदों पर खरी उतरने का पूरा प्रयास करेंगी।

वहीं प्रदेश अध्यक्ष सभाजीत सिंह ने कहा  मैं पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल और प्रदेश प्रभारी संजय सिंह के साथ सभी शीर्ष नेतृत्व का उत्तर प्रदेश संगठन की ओर से आभार व्यक्त करता हूँ कि उन्होंने यूपी के आगामी विधानसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी के लड़ने का निर्णय लिया। अरविंद केजरीवाल का ये फैसला उत्तर प्रदेश के अंदर एक ईमानदार सियासत को जन्म देगा।

Popular posts from this blog

स्वस्थ जीवन मंत्र : चैते गुड़ बैसाखे तेल, जेठ में पंथ आषाढ़ में बेल

या देवी सर्वभू‍तेषु माँ गौरी रूपेण संस्थिता।  नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नम:।।

!!कर्षति आकर्षति इति कृष्णः!! कृष्ण को समझना है तो जरूर पढ़ें