नरेंद्र आनंद उर्फ 'टिल्लू आनंद' ने आम आदमी पार्टी की सदस्यता ग्रहण की

 
 
लखनऊ। दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी के मुखिया अरविंद केजरीवाल द्वारा उत्तर प्रदेश में चुनाव लड़ने का ऐलान के बाद आम आदमी पार्टी ने उत्तर प्रदेश में संगठन विस्तार का काम तेज कर दिया है। वहीं, यूपी आम आदमी पार्टी ने आज अधिवक्ता प्रकोष्ठ के गठन का एलान किया। प्रदेश अध्यक्ष सभाजीत सिंह ने जय कृष्णा शुक्ला को अधिवक्ता प्रकोष्ठ के अध्यक्ष नियुक्त किया। वह अवध बार एसोसिएशन के पूर्व उपाध्यक्ष रह चुके हैं। वहीं, 40 से ज्यादा फिल्मों में काम करने वाले और कांग्रेस नेता रहे नरेंद्र आनंद उर्फ टिल्लू आनंद ने आम आदमी पार्टी की प्राथमिक सदस्यता ग्रहण की।

आम आदमी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष सभाजीत सिंह ने कहा कि आम आदमी पार्टी ने जब से यूपी में विधानसभा चुनाव लड़ने का ऐलान किया है, जब से अरविंद केजरीवाल की सरकार ने कहा है कि हम यूपी में भी दिल्ली मॉडल लागू करेंगे तब से बहुत सारे लोग प्रभावित होकर आम आदमी पार्टी में शामिल हो रहे हैं। कई सालों से कांग्रेस में काम करने वाले और 40 से ज्यादा फिल्मों में अभिनय करने वाले नरेंद्र आनंद उर्फ टिल्लू आनंद आज आम आदमी पार्टी में शामिल हो रहे हैं। उत्तर प्रदेश की इकाई की तरफ से हम उनका हार्दिक अभिनंदन और स्वागत करते हैं।

आम आदमी पार्टी में शामिल होने के बाद नई जिम्मेदारी मिलने पर नरेंद्र आनंद ने कहा कि मैं पार्टी में शामिल होकर अच्छा काम करूंगा। उन्होंने कहा कि कांग्रेस तो अब डूबता हुआ जहाज है। एक लंबे समय तक मैं कांग्रेस से जुड़ा रहा लेकिन मुझे उनका काम समझ में नहीं आया। जिस तरह दिल्ली में अरविंद केजरीवाल की सरकार लोगों को अच्छी सुविधाएं प्रदान कर रही है उसी तरह मैं चाहता हूं कि यूपी के लोगों को भी वह सभी सुविधाएं मिलें। आज पूरा देश केंद्र सरकार की नीतियों, व्यवस्थाओं और कोरोना महामारी से जूझ रहा है। वहीं, आम आदमी पार्टी सरकार देश में सबसे अच्छा काम कर रही है। हम चाहते हैं कि यूपी में भी इसी तरह का काम हो।

वहीं, प्रेस कॉन्फ्रेंस में मौजूद शशिकांत कुशवाहा ने कहा कि आज देश के हालात हम लोगों के सामने हैं। यूपी में शिक्षा और चिकित्सा को लेकर उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने कुछ काम नहीं किया है। आज दिल्ली सरकार का शिक्षा, चिकित्सा, बिजली, पानी का मॉडल पूरी दुनिया में सराहा जा रहा है। यह मॉडल पूरे देश में मिसाल के तौर पर उभर कर सामने आया है। हमारे प्रदेश प्रभारी और राज्यसभा सांसद संजय सिंह के नेतृत्व में जिस तरह से उत्तर प्रदेश में आवाज उठाई जा रही है उसकी वजह से लोग कहने लगे हैं कि अगर उत्तर प्रदेश में कोई विपक्ष है तो वह सिर्फ आम आदमी पार्टी है। आम आदमी पार्टी यूपी में अच्छी तरीके से विपक्ष की भूमिका निभा रही है। संजय सिंह ने उत्तर प्रदेश की योगी सरकार को बेनकाब करने का काम किया है। पहले तो उत्तर प्रदेश के मंत्री ने दिल्ली सरकार को शिक्षा पर खुली बहस की चुनौती दी और जब उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया लखनऊ आए तो भाजपा सरकार ने बहस करना तो दूर उनको यहां के स्कूल तक नहीं देखने दिए। इससे योगी सरकार की पोल खुल गई है।

Popular posts from this blog

अनेक बातें जो हम समझ नहीं पाते

पीसीएस मणि मंजरी राय आत्महत्या मामले में नया खुलासा, ड्राइवर गिरफ्तार

मुख्य सचिव की अध्यक्षता में आॅनलाईन ट्रांसफर सिस्टम विकसित किये जाने की प्रगति की समीक्षा बैठक की गई संपन्न