ऐतिहासिक गुरूद्वारा नाका हिण्डोला में नव वर्ष के आगमन पर सजाया गया विशेष दीवान

लखनऊ। आज दिनांक 31-12-2020 दिन बृहस्पतिवार को नव वर्ष के आगमन दिवस पर एक विशेष दीवान रात्रि 10 बजे से 12.30 बजे तक ऐतिहासिक गुरूद्वारा नाका हिण्डोला, लखनऊ में शासन द्वारा जारी कोविड-19 की गाइड लाइन के अनुसार सजाया गया।


इस अवसर पर गुरुद्वारा भवन एवं दरबार हाल को फूलों एवं बिजली की झालरों से बड़ी खूबसूरती से सजाया गया गुरुद्वारा साहिब में आने वाली संगत को कोविड-19 की गाइड लाइन के अनुसार सैनेटाइज एवं निर्धारित दूरी का पालन महामंत्री हरमिन्दर सिंह टीटू एवं हरविन्दरपाल सिंह नीटा की देखरेख में हुआ। 

माता गुजरी सत्संग सभा एवं गुरमत संगीत अकेडमी (नाका) के बच्चों ने शबद कीर्तन गायन किया। उसके उपरान्त ज्ञानी हरविन्दर सिंह सुहाना वालों ने नव वर्ष पर गुरमत विचार द्वारा व्याख्यान किया। हजूरी रागी जत्था भाई राजिन्दर सिंह ने शबद कीर्तन गायन एवं “वाहिगुरु' का नाम सिमरन करवाते हुए समूह साध संगत को नये वर्ष में प्रवेश करवाया।

उसके उपरान्त सभी ने एक दूसरे को नव वर्ष की बधाई दी। कार्यक्रम का संचालन सतपाल सिंह मीत ने किया। दीवान की समाप्ति के उपरान्त लखनऊ गुरूद्वारा प्रबन्धक कमेटी के अध्यक्ष स0 राजेन्द्र सिंह बग्गा ने आई साध संगतों को सम्बोधित करते हुए नव वर्ष की बधाई दी। समाप्ति के उपरान्त गुरू का प्रसाद गाजर का हलुआ एवं केसरिया दूध श्रद्धालुओं में वितरित किया गया

Popular posts from this blog

स्वस्थ जीवन मंत्र : चैते गुड़ बैसाखे तेल, जेठ में पंथ आषाढ़ में बेल

या देवी सर्वभू‍तेषु माँ गौरी रूपेण संस्थिता।  नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नम:।।

!!कर्षति आकर्षति इति कृष्णः!! कृष्ण को समझना है तो जरूर पढ़ें