कौशाम्बी जेल में बंदियों द्वारा किये जा रहे सेवा-भाव के प्रयासों की मोदी ने की सराहना

लखनऊ मुख्यमंत्री के निर्देशों के अनुपालन के क्रम में प्रदेश के कारागारों में बंदियो के सहयोग से कई उल्लेखनीय रचनात्मक कार्य भी किये जा रहे है। इसी प्रकार के कौशाम्बी जनपद के कारागार में बंदियों के प्रयास की प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा सराहना की गयी है। उल्लेखनीय है कि कौशाम्बी जेल में कैदियो द्वारा गायो को ठण्ड से बचाने के लिये पुराने व फटे कम्बलों के कवर बनाकर गौशाला हेतु भेजे जा रहे है।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज ’’मन की बात’’ कार्यक्रम मे कौशाम्बी जनपद के कारागार के बंदियो द्वारा किये जाने वाले इन प्रयासों की सराहना की है। उन्होंने इसे सेवा भाव का एक उदाहरण बताया है। प्रधानमंत्री ने कहा है कि ऐसे लोगो के प्रयास की सराहना होनी चाहिए।

पुराने कम्बलो को कौशाम्बी समेत दूसरे जिले की जेलो से एकत्र किया जाता है और फिर उन्हे सिलकर गौशाला भेज दिया जाता है। कौशाम्बी जेल के कैदी हर सप्ताह अनेकों कवर तैयार कर रहे है। प्रधानमंत्री ने यह भी कहा है कि दूसरो की देखभाल के लिये सेवा-भाव से भरे इस प्रकार के प्रयासों को प्रोत्साहित करे। यह वास्तव में एक ऐसा सत्कार्य है जो समाज की संवेदनाओं को सशक्त करता है।

Popular posts from this blog

अनेक बातें जो हम समझ नहीं पाते

पीसीएस मणि मंजरी राय आत्महत्या मामले में नया खुलासा, ड्राइवर गिरफ्तार

मुख्य सचिव की अध्यक्षता में आॅनलाईन ट्रांसफर सिस्टम विकसित किये जाने की प्रगति की समीक्षा बैठक की गई संपन्न