उ0प्र0 में महिलाओं और बच्चियों के साथ जघन्यता और बर्बरता नहीं ले रही है थमने का नाम- कांग्रेस

लखनऊ। उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने बच्चियों और महिलाओं के साथ लगातार हो रहे बलात्कार, सामूहिक बलात्कार, बर्बर हत्या पर गहरी चिन्ता व्यक्त की है और कहा है कि योगी सरकार में महिलाओं और बच्चियों के साथ जघन्यता, बर्बरता थमने का नाम नहीं ले रही है, आखिर इसके लिए कौन जिम्मेदार है?
 
उ0प्र0 कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता बृजेन्द्र कुमार सिंह ने आज जारी बयान में कहा कि प्रदेश की योगी सरकार की महिलाओं को सुरक्षा देने में नाकाम साबित होने की वजह से आज उ0प्र0 की बहन बेटियां सर्वाधिक असुरक्षित हैं। उ0प्र0 आज सामूहिक बलात्कार और हत्या का हब बन चुका है। राजधानी लखनऊ में मुख्यमंत्री आवास पर बलात्कार और सामूहिक बलात्कार से पीड़िताओं द्वारा न्याय मांगने आने पर उन्हें दर-दर भटकना और न्याय न मिलने पर उन्हें अपना जीवन समाप्त करने के लिए मजबूर होना पड़ा।
 
यह उ0प्र0 की योगी सरकार की कानून व्यवस्था के मुंह पर करारा तमाचा है। मिशन शक्ति पर करोड़ों रूपये फूंकने के बाद नतीजा शून्य है। सच्चाई तो यह है कि प्रदेश की बच्चियां और महिलाएं आज सर्वाधिक असुरक्षित हैं। प्रवक्ता ने कहा कि अभी कल ही मुख्यमंत्री योगी गृह जनपद से गोरखपुर से सटे जिले महराजगंज में 12वर्षीय बच्ची की रेप के बाद जघन्य हत्या कर दी गयी। बच्ची के घर से गायब हो जाने के बाद भी पुलिस प्रशासन की अकर्मण्यता और लापरवाही की वजह से अबोबच्ची की जान चली गयी। जनपद बाराबंकी के सिद्धौर ब्लाक के ग्राम कोराहापुरवा में दलित युवती के साथ बलात्कार के साथ हत्या कर दी गयी।
 
गाजियाबाद में विगत दिनों हुई बलात्कार की शिकार बालिका ने आज दम तोड़ दिया। प्रदेश के हर जिले से बलात्कार की खबरें आम हो चली हैं। सिंह ने कहा कि महिलाओं को सुरक्षा देने में नाकाम योगी सरकार और उसके अधिकारी बेशर्मी से ऐलान कर रहे हैं कि प्रदेश में महिलाओं और बच्चियों के उत्पीड़न और उनके प्रति अपराधों में कमी आई है जबकि जमीनी आंकड़े उनके दावों को मुंह चिढ़ा रहे हैं। आज प्रदेश सरकार द्वारा प्रेस बयान जारी कर दावा किया जा रहा है कि प्रदेश में महिलाओं और बच्चियों के साथ होने वाले विभिन्न अपराधों में कमी आई है।
 
सरकार का यह बयान बहुत ही दुर्भाग्यपूर्ण और प्रदेश की जनता को गुमराह करने वाला है। प्रवक्ता ने कहा कि योगी सरकार में अब तक सबसे अधिक सन्तों एवं पुजारियों की हत्या हुई है। विभिन्न जनपदों में अब तक लगभग 30 से अधिक सन्तों, धर्मगुरूओं एवं पुजारियों की अपराधियों द्वारा हत्या कर दी गयी है जो बहुत ही चिन्ता का विषय है। लखनऊ के बख्शी का तालाब में आज पुजारी की देवस्थल पर लूटपाट के बाद जघन्य हत्या कर दी गयी।

Popular posts from this blog

अनेक बातें जो हम समझ नहीं पाते

पीसीएस मणि मंजरी राय आत्महत्या मामले में नया खुलासा, ड्राइवर गिरफ्तार

मुख्य सचिव की अध्यक्षता में आॅनलाईन ट्रांसफर सिस्टम विकसित किये जाने की प्रगति की समीक्षा बैठक की गई संपन्न