राष्ट्रीय बालिका सप्ताह के अन्तर्गत महिलाओं तथा बच्चों के मुद्दों को शामिल किये जाने हेतु बैठकें सम्पन्न

निदेशक महिला कल्याण मनोज कुमार राय ने बताया कि मिशन शक्ति के अंतर्गत प्रदेश के समस्त जनपदों में 24 जनवरी 2021 को प्रस्तावित राष्ट्रीय बालिका दिवस के अवसर पर 20 से 26 जनवरी 2021 तक राष्ट्रीय बालिका सप्ताह मनाया जा रहा है। उन्होंने बताया कि राष्ट्रीय बालिका सप्ताह के अन्तर्गत अभी तक 31 जनपदों में ग्राम पंचायत विकास योजनाओं में महिलाओं तथा बच्चों के मुद्दों को शामिल किये जाने हेतु बैठकें सम्पन्न हो चुकी हैं, जिसमें 450 मेधावी बालिकाओं और 5000 जेंडर चैंपियंस का सम्मान किया गया है।

राय ने बताया कि राष्ट्रीय बालिका दिवस पर समस्त प्रशसनिक पदों पर मेधावी बालिकाओं तथा जेंडर चैंपियन महिलाओं को एक दिन की सांकेतिक 'अधिकारी' (नायिका) नियुक्त किया जाएगा, जिसके अंतर्गत वे जनपद में मंडलायुक्त, जिलाधिकारी, मुख्य विकास अधिकारी, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक आदि पदों को ग्रहण करते हुए 24 जनवरी, 2021 को जनपद में कामकाज संभालेंगी। उन्होंने बताया कि राष्ट्रीय बालिका दिवस के उपलक्ष्य पर विभाग द्वारा समस्त जनपदों में "नायिका” मेगा इवेंट का आयोजन कर मेधावी बालिकाओं व जेंडर चैंपियन महिलाओं को प्रशासनिक पदों पर नियुक्त कराकर प्रदेश में उनका सम्मान किया जाएगा तथा उन्हें अन्य लोगों के लिए रोल मॉडल के रूप में प्रस्तुत किया जाएगा, इससे अन्य बालिकाओं और महिलाओं को भी आगे बढ़ने हेतु प्रोत्साहन मिलेगा”।

राय ने बताया कि 22 जनवरी, 2021 को ग्राम, ब्लॉक तथा जनपद स्तर पर कन्या जन्मोत्सव मनाया गया, जिसके अन्तर्गत किसी भी सरकारी अस्पताल में जन्म लेने वाली बालिकाओं के जन्मोत्सव आयोजन करते हुए मॉ-बेटी को उपहार वितरण किया गया। इस कार्यक्रम के तहत लगभग 2005 बालिकाओं का जन्मोत्सव मनाया गया है। मिशन शक्ति अभियान के अन्तर्गत 21 जनवरी 2021 को जनपद स्तरीय कार्यक्रम का आयोजन कर चयनित जैन्डर चैम्पियनस् तथा मेधावी छात्राओं का सम्मान तथा नकद पुरस्कार का वितरण किया गया

उन्होंने बताया कि राज्य बोर्ड से 10वीं व 12वीं कक्षा में जनपद में प्रथम 10 स्थानों पर परीक्षा उर्तीण करने वाली 10-10 शीर्ष मेधावी छात्राओं को नगद पुरस्कार का वितरण किया गया। इसके अलावा राज्य बोर्ड से 12वीं कक्षा में जनपद में प्रथम स्थान पर परीक्षा उत्र्तीण करने वाली शीर्ष छात्रा जिसने आगे की पढ़ाई जारी रखी हो उसे भी नकद पुरस्कार दिया गया। उन्होंने बताया कि जैन्डर चैम्पियनस तथा खेलों, विशिष्ट कलाओं में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाली 5 महिलाओं तथा 5 बालिकाओं को नकद पुरस्कार दिया गया। 1 से 20 जनवरी, 2021 को जनपद में जन्म लेने वाली बालिकाओं की संख्या के बराबर वृक्षारोपण कर बालकों तथा पुरूषों को उन वृक्षों के संरक्षण का दायित्व सौंपा गया।

प्रदेश में महिलाओं तथा बच्चों की सुरक्षा, सम्मान एवं स्वावलंबन के लिये "मिशन शक्ति" का अभियान चल रहा है। अभियान के अन्तर्गत महिलाओं तथा बच्चों से संबंधित कानूनों जैसे बाल विवाह प्रतिषेध अधिनियम, पी0सी0पी0एन0डी0टी0 अधिनियम, कार्यस्थल पर महिलाओं का लैंगिक उत्पीडन अधिनियम, दहेज प्रतिषेध अधिनियम तथा घरेलू हिंसा अधिनियम पर जन सामान्य को जागरूक किया जा रहा है।

Popular posts from this blog

अनेक बातें जो हम समझ नहीं पाते

मुख्य सचिव की अध्यक्षता में आॅनलाईन ट्रांसफर सिस्टम विकसित किये जाने की प्रगति की समीक्षा बैठक की गई संपन्न

पीसीएस मणि मंजरी राय आत्महत्या मामले में नया खुलासा, ड्राइवर गिरफ्तार