किसानों को अपनी उपज बिक्री करने में क्रय केन्द्रों पर न हो कोई असुविधा- मनीष चौहान

लखनऊ। प्रदेश के खाद्य आयुक्त मनीष चौहान ने बताया कि धान खरीद में लापरवाही, अनियमितता पाये जाने पर राजीव कुलश्रेष्ठ, जिला खाद्य विपणन अधिकारी, उन्नाव और जगत नारायण, विपणन निरीक्षक, कानपुर देहात के विरूद्ध एफ0आई0आर0 दर्ज कराते हुये निलम्बित कर दिया गया है। उन्होंने बताया कि इसके अलावा अरूण कुमार, विपणन निरीक्षक, जनपद मऊ को आजमगढ़ सम्भाग से व विपिन श्रीवास्तव, विपणन निरीक्षक, लखनऊ सम्भाग से मिर्जापुर सम्भाग के लिये किये गये स्थानान्तरण का अनुपालन न करने पर व अनुशासनहीनता के आधार पर तत्काल प्रभाव से निलम्बित कर दिया गया है। 

चौहान ने बताया कि प्रदेश में अब तक कुल 71 एफ0आई0आर0 (46 केन्द्र प्रभारियों व 77 अन्य व्यक्तियों) तथा 02 सम्भागीय खाद्य नियंत्रक, 02 जिला खाद्य विपणन अधिकारी, 02 जिला प्रबन्धक, पी0सी0यू0, 01 जिला प्रबन्धक, एस0एफ0सी0 व 01 मण्डी सचिव एवं 36 केन्द्र प्रभारी कुल 50 निलम्बन की कार्यवाही तथा 16 विभागीय कार्यवाही, 37 केन्द्र प्रभारियों के विरूद्ध प्रतिकूल प्रविष्टि, 247 केन्द्र प्रभारियों को चेतावनी व 829 कर्मचारियों के विरूद्ध कारण बताओ नोटिस निर्गत किया गया तथा 99 मिलर/ठेकेदार को नोटिस, 02 लाइसेन्स निलम्बन, 05 कर्मचारियों को जेल में बन्द किया गया। इस प्रकार कुल 1494 कार्यवाहियाँ की गयी हैं।

खाद्य आयुक्त ने बताया कि क्रय केन्द्रों पर किसानों को अपनी उपज बिक्री करने में कोई असुविधा न हो, इस हेतु जिलाधिकारियों के स्तर से प्रत्येक क्रय केन्द्र पर नोडल अधिकारी की तैनाती की गयी तथा किसानों को समय से भुगतान कराने, क्रय केन्द्रों पर धान क्रय हेतु बोरों की उपलब्धता बनाये रखने, समस्त स्थापित धान क्रय केन्द्रों पर नियमानुसार खरीद कराने एवं धान क्रय केन्द्रों के नियमित निरीक्षण कराने के सम्बन्ध में निर्देश दिये गये हैं।

Popular posts from this blog

अनेक बातें जो हम समझ नहीं पाते

मुख्य सचिव की अध्यक्षता में आॅनलाईन ट्रांसफर सिस्टम विकसित किये जाने की प्रगति की समीक्षा बैठक की गई संपन्न

यूपी में पंचायत चुनाव को लेकर राज्य निर्वाचन आयोग ने शुरू की तैयारियां