मुख्य सचिव की अध्यक्षता में अयोध्या में प्रस्तावित विकास कार्यों की समीक्षा बैठक आयोजित

लखनऊ। मुख्य सचिव राजेन्द्र कुमार तिवारी की अध्यक्षता में आयोजित बैठक में अयोध्या में प्रस्तावित विभिन्न विकास कार्यों की गहन समीक्षा की गई। बैठक में अपर मुख्य सचिव गृह, अपर मुख्य सचिव चिकित्सा शिक्षा सहित सभी सम्बन्धित विभागों के वरिष्ठ अधिकारीगण तथा वीडियो कान्फ्रेन्सिंग के माध्यम से मण्डलायुक्त अयोध्या, जिलाधिकारी अयोध्या सहित अन्य सम्बन्धित अधिकारियों द्वारा प्रतिभाग किया गया।
 
अपने संबोधन में मुख्य सचिव राजेन्द्र कुमार तिवारी ने कहा कि अयोध्या में प्रस्तावित विकास परियोजनाओं के क्रियान्वयन की प्रगति की साप्ताहिक समीक्षा की जाये। उन्होंने कहा कि अयोध्या में कराये जाने वाले विकास कार्यों की स्वीकृतियां निर्गत करने में किसी भी प्रकार का विलंब न हो। उन्होंने कहा कि समय से स्वीकृतियां एवं धनराशि जारी होने के पश्चात यह सुनिश्चित किया जाये कि परियोजनायें निर्धारित टाइमलाइन के अनुसार पूरी हों। उन्होंने कार्यदायी संस्थाओं से समय से डीपीआर उपलब्ध कराने को कहा। उन्होंने मण्डलायुक्त अयोध्या से अपेक्षा की कि जिन परियोजनाओं की डी0पी0आर0 अभी तक प्रेषित नहीं की गई है, उन्हें एक सप्ताह के अंदर मुख्यालय भिजवा दिया जाये।
 
इससे पूर्व, मुख्य सचिव ने परियोजनावार विभिन्न विकास कार्यों की गहन समीक्षा करते हुये सम्बन्धित अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दिये। महर्षि राजा दशरथ मेडिकल कालेज के दर्शननगर चिकित्सालय परिसर एवं चिकित्सा सुविधा के सम्बन्ध में बताया गया कि माह अप्रैल, 2021 तक समस्त कार्य पूर्ण हो जाना संभावित है। कुमारगंज अयोध्या स्थित 100 शैय्या चिकित्सालय के निर्माण की समीक्षा में बताया गया कि 95 प्रतिशत कार्य पूरा हो गया है तथा 31 जनवरी, 2021 तक जरूरी स्टाफ की तैनाती कर दी जायेगी। हनुमानगढ़ी, दशरथमहल, कनक भवन एवं अन्य प्रमुख मंदिरों में फसाड लाइटिंग से सम्बन्धित शासनादेश 15 फरवरी, 2021 जारी कर दिया जायेगा।
 
अयोध्या में निर्माणाधीन बस स्टैण्ड के संचालन के सम्बन्ध में बताया गया कि 01 मार्च, 2021 से संचालन प्रारंभ हो जायेगा। पंचकोसी परिक्रमा के चैड़ीकरण एवं सुविधाओं के विस्तार के कार्यों के सम्बन्ध में बताया गया कि 31 जनवरी, 2021 तक आगणन भेज दिया जायेगा। अयोध्या-सुल्तानपुर राष्ट्रीय राजमार्ग से एयरपोर्ट तक फोर लेन सड़क के नव निर्माण के सम्बन्ध में बताया गया कि भूमि हस्तांतरण की कार्यवाही प्रगति पर है, इस सम्बन्ध में लो0नि0वि0 को डी0पी0आर0 तैयार कर शीघ्र उपलब्ध कराने के निर्देश दिये गये। रानोपाली रेलवे क्रासिंग से विद्याकुण्ड मार्ग के चैड़ीकरण एवं सुदृढ़ीकरण के सम्बन्ध में बताया गया कि आगणन प्राप्त हो गया है, जिसका परीक्षण किया जा रहा है। सहादतगंज नयाघाट मार्ग के चैड़ीकरण एवं सुदृढ़ीकरण के सम्बन्ध में बताया गया कि डी0पी0आर0 तैयार हो गया है, जिसे अगले 02 दिवस में मुख्यालय भेज दिया जायेगा।
 
अयोध्या बस अड्डे के क्षमता विस्तार के कार्य के सम्बन्ध में बताया गया कि पी0पी0पी0 माडल पर परिवहन विभाग द्वारा निर्माण कराया जाना है, जिसके लिये भूमि संस्कृति विभाग से हस्तांतरित की जानी है, इस सम्बन्ध में जिलाधिकारी अयोध्या को भूमि ट्रांसफर का प्रस्ताव शीघ्र भिजवाने को कहा गया। सरयू नदी पर बैराज/रबड़डैम के निर्माण के सम्बन्ध में बताया गया कि आईआईटी रुड़की से स्टडी चल रही है, जो कि 31 मार्च, 2021 तक पूरी हो जायेगी। 30 अप्रैल, 2021 तक उक्त की डीपीआर तैयार हो जायेगी।

Popular posts from this blog

अनेक बातें जो हम समझ नहीं पाते

पीसीएस मणि मंजरी राय आत्महत्या मामले में नया खुलासा, ड्राइवर गिरफ्तार

मुख्य सचिव की अध्यक्षता में आॅनलाईन ट्रांसफर सिस्टम विकसित किये जाने की प्रगति की समीक्षा बैठक की गई संपन्न