राज्य आपदा मोचक बल हेतु तकनीकी एवं मेडिकल स्टाफ की तैनाती किये जाने के कार्यो में तेजी लायें - अपर मुख्य सचिव, गृह



 लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा राज्य अपादा मोचक बल की सक्रियता को प्रभावी बनाये जाने हेतु इस बल के लिये सभी जरूरी संसाधन शीघ्र उपलब्ध कराये जाने हेतु निर्देश दिये गये है। इसी कड़ी में आज गृह विभाग स्थित सभा कक्ष में हुई उच्चस्तरीय बैठक में राज्य आपदा मोचक बल मे नवसृजित कम्पनियों हेतु तकनीकी एवं मेडिकल स्टाफ की पूर्ति व मूल भूत संसाधन उपलब्ध कराये जाने की दिशा मे विस्तार से विचार विमर्श किया गया।

अपर मुख्य सचिव, गृह अवनीश कुमार अवस्थी की अध्यक्षता में सम्पन्न बैठक में जानकारी दी गयी कि इस बल के उपकरणों के खरीद हेतु वर्तमान वित्तीय वर्ष में 10 करोड़ रूपये का प्रावधान किया गया है जिसके सापेक्ष 7 करोड़ 38 लाख रूपये से अधिक की धनराशि स्वीकृत की जा चुकी है। इसके अलावा कार्यालय की साज सज्जा हेतु वर्तमान वित्तीय वर्ष में 11 लाख रूपये का प्रावधान किया गया है। साथ ही एस0डी0आर0एफ0 के लिये आवासीय/अनावासीय भवनों के निर्माण के सम्बन्ध में अब तक हुई प्रगति की भी समीक्षा की गयी। श्री अवस्थी ने राज्य आपदा मोचक बल हेतु तकनीकी एवं मेडिकल स्टाफ की पूर्ति हेतु लोक निर्माण, चिकित्सा स्वास्थ्य विभाग, ऊर्जा एवं पशुपालन विभाग से शीघ्रातिशीघ्र सेवा स्थानान्तरण के आधार पर तैनाती किये जाने के कार्यो में तेजी लाये जाने के भी निर्देश दिये है।

उल्लेखनीय है कि एस0डी0आर0एफ0 के गठन का उद्देश्य प्राकृतिक एवं मानवजनित आपदाओं यथा- रेल/मेट्रो दुर्घटना, पुल/इमारतो का ढहना, भू-स्खलन,भूकम्प, चक्रवात तथा रासायनिक, जैविकीय रेडियोलाॅजिकल एवं नाभिकीय आपदाओं में राहत एवं बचाव कार्य है, जिसमें टीम/कम्पनी के सहयोगी तकनीकी पदों की प्रभावी भूमिका है।
 

Popular posts from this blog

स्वस्थ जीवन मंत्र : चैते गुड़ बैसाखे तेल, जेठ में पंथ आषाढ़ में बेल

या देवी सर्वभू‍तेषु माँ गौरी रूपेण संस्थिता।  नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नम:।।

!!कर्षति आकर्षति इति कृष्णः!! कृष्ण को समझना है तो जरूर पढ़ें