चोरी के 118 मोबाइल फोन कीमत करीब 23,60000/- रु० के साथ 03 शातिर चोर गिरफ्तार

लखनऊ। थाना आशियाना व पुलिस उप आयुक्त पूर्वी की क्राइम टीम की संयुक्त पुलिस टीम द्वारा द्वारा 03 शातिर चोर/नकबजन गिरफ्तार चोरी के 118 मोबाइल फोन एन्ड्राइड स्क्रीन टच कीमती करीब 23,60000 रुपये बरामद।
 
पुलिस आयुक्त डी0 के0 ठाकुर महोदय द्वारा अपराध एंव अपराधियो पर नियंत्रण व वांछित अभियुक्त की गिरफ्तारी हेतु चलाये जा रहे अभियान के क्रम में पुलिस उपआयुक्त व अपर पुलिस उपआयुक्त पूर्वी जोन व सहायक पुलिस आयुक्त कैण्ट डा0 वीन सिह के परिवेक्षण में एंव प्रभारी केशव कुमार तिवारी के निर्देशन में थाना अशियाना पुलिस टीम व पुलिस उपआयुक्त पूर्वी की क्राइम टीम द्वारा थाना आशियाना क्षेत्र में नगर जोन 8 के सामने रेलवे के किनारे जाने वाली रोड पर मुखबिर खास की सूचना पर तीन व्यक्ति को रोक कर पुछ ताछ एंव तलाशी ली गयी।
 
तालाशी के दौरान एक व्यक्ति ने अपना नाम देवराज पुत्र भुवनेशवर नोनिया नि0 आउपुर थाना राजमहल जि0 साहवगंज झारखण्ड हाल पता किराये का मकान देवी खेडा थाना आशियाना, लखनऊ उम्र 20 वर्ष है, बताया जिसके पास एक पन्नी में 33 अदद स्क्रनी टच भिन्न-भिन्न कम्पनी के बरामद हुए जिनको पूर्व में विभिन्न स्थानो से चोरी करना बताया। दूसरे व्यक्ति से नाम पता पूछने पर अपना नाम सुनील पुत्र श्याम लाल नि0 वाऊपुर थाना राजमहल जिला साहवगंज झारखण्ड बतया व उसके पास से एक पन्नी में 29 अदद स्क्रनी टच भिन्न-भिन्न कम्पनी के बरामद हुए, जिनको पूर्व में विभिन्न स्थानो से चोरी करना बताया।
 
तीसरे व्यक्ति रजत नोनिया पुत्र श्याम लाल नि0 वाऊपुर थाना राजमहल जि0 साहवगंज झारखण्ड किराये का मकान देवीखेडा थाना आशियाना पास से एक पन्नी में 56 अदद स्क्रनी टच भिन्न-भिन्न कम्पनी के बरामद हुए, जिनको पूर्व में विभिन्न स्थानो से चोरी करना बताया। बरामद सुदा मोबाइल फोन के आईएमआई नं0 का मिलान करने पर थाना स्थानीय पर पूर्व में वादीगण मु0अ0सं0-53/21 धारा 379 भ0द0वि0, मु0अ0सं0-54/21धारा 379 भ0द0वि0, मु0अ0सं0-55/21 धारा 379 भा0द0वि0 के चोरी गये मोबाइल फोन बरामद हुए।
 
बरामदशुदा फोन का मिलान कराकर अन्य विधिक कार्यवाही की जा रही है तीनो अभियुक्तगण को कारण गिरफतारी बताते हुए उनके विरूद्व मु0अ0सं0-58/21 धारा 411 भा0द0वि0 पंजीकृत होकर विवेचनात्मक कार्यवाही प्रचलित है। यह गिरोह भारत के भिन्न-भिन्न प्रदेशो एंव जिलो पर किराये के मकान को लेकर आस-पास भीड भाड वाले इलाको के बाजार एंव स्थलो पर जाकर आम नागरिको के फोन को चोरी कर उन फोनो को झारखण्ड मे ले जाकर बेचकर धन का अर्जित करते है।

Popular posts from this blog

अनेक बातें जो हम समझ नहीं पाते

मुख्य सचिव की अध्यक्षता में आॅनलाईन ट्रांसफर सिस्टम विकसित किये जाने की प्रगति की समीक्षा बैठक की गई संपन्न

यूपी में पंचायत चुनाव को लेकर राज्य निर्वाचन आयोग ने शुरू की तैयारियां