आगामी 12 मार्च को संसद घेराव के लिए अधिक संख्या में छात्र, युवा पहुंचे दिल्ली- नीरज कुन्दन

लखनऊ। भारतीय राष्ट्रीय छात्र संगठन के राष्ट्रीय अध्यक्ष नीरज कुन्दन के आज यहां राजधानी लखनऊ में आयोजित "नौकरी दो या डिग्री वापस लो" छात्र महासम्मेलन में पहुंचने पर एयरपोर्ट पर सैंकड़ों छात्रों और युवाओं ने एनएसयूआई के प्रदेश अध्यक्ष अनस रहमान के नेतृत्व में जोरदार स्वागत किया।

इसके उपरान्त प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय में आयोजित छात्र महासम्मेलन में नीरज कुन्दन का हजारों छात्रों एवं युवाओं ने फूल-मालाओं और गननभेदी नारों से भव्य स्वागत किया। इस मौके पर नौकरी दो या डिग्री वापस लो छात्र महासम्मेलन को सम्बोधित करते हुए राष्ट्रीय अध्यक्ष नीरज कुन्दन ने कहा कि छात्र अपने मन की बात सुनना चाहता है, दूसरे के मन की बात सुनना नहीं चाहता। एनएसयूआई छात्र हितों के लिए लगातार सड़कों पर संघर्ष करती है। उन्होने कहा कि जो नेता अपने मन की बात करते हैं छात्र उसे सुनना पसन्द नहीं करता। काशी विद्यापीठ के छात्र संघ चुनाव के आये रिजल्ट पर उन्होने कहा कि इससे यह साफ हो गया है कि कांग्रेस की नीतियां छात्रों और युवाओं की पसन्द है।

उन्होने कहा कि उ0प्र0 में भर्तियां नहीं हो रहीं, जो भर्ती निकल रही है वह सब घोटाले की भेंट चढ़ रहीं हैं। उ0प्र0 में लगातार युवाओं और छात्रों के हितों को कुचलने का काम भाजपा की सरकार कर रही है। इसके विरोध में पूरे प्रदेश के छात्र लामबन्द हो रहे हैं। उन्होने कहा कि आज देश में बेरोजगारी दर 45 साल में सबसे अधिक है। 2014 में, भाजपा ने हर साल दो करोड़ से अधिक रोजगार के अवसर पैदा करने का वादा किया था और अब, यह आंकड़ा 12 करोड़ तक पहुंच गया है। उन्होने कहा कि आगामी 2022 के विधानसभा चुनाव में एनएसयूआई पूरी ताकत के साथ कांग्रेस पार्टी को सत्ता में पहुंचाने के लिए जी-तोड़ मेहनत करेगी।

उन्होने घोषणा की कि एनएसयूआई ‘नौकरी दो या डिग्री वापस लो’ के तहत आगामी 12 मार्च 2021 को दिल्ली में संसद का घेराव करेगी। भारतीय राष्ट्रीय छात्र संगठन के राष्ट्रीय महासचिव शौर्यवीर सिंह ने कहा कि राष्ट्रीय अध्यक्ष नीरज कुन्दन के आवाहन पर चलाये जा रहे नौकरी दो या डिग्री वापस लो के तहत आगामी 12 मार्च 2021 को भारी संख्या में उ0प्र0 से छात्रों एवं युवाओं को दिल्ली पहुंचने का आवाहन किया। उन्होने कहा कि प्रदेश की योगी सरकार आज छात्रों और युवाओं पर तानाशाही रवैया अपना रही है। एनएसयूआई उत्तर प्रदेश के प्रदेश अध्यक्ष अनस रहमान ने कहा किएनएसयूआई ने केंद्र सरकार के खिलाफ नौकरी दो या डिग्री वापस लो अभियान शुरू किया है

इस अभियान का मुख्य उद्देश्य सरकार की असलियत की ओर इशारा करना है, जिसे युवाओं को रोजगार देने में कोई दिलचस्पी नहीं है। छात्र और युवा दर-दर भटकने के लिए मजबूर हैं।एनएसयूआई लखनऊ के जिलाध्यक्ष मो0 तारिक ने पूरे प्रदेश के विश्वविद्यालयों एवं महाविद्यालयों से आये एनएसयूआई के पदाधिकारियों एवं छात्रों का स्वागत किया एवं उनके द्वारा एनएसयूआई को मजबूत किये जाने के लिए धन्यवाद ज्ञापित किया।

Popular posts from this blog

अनेक बातें जो हम समझ नहीं पाते

मुख्य सचिव की अध्यक्षता में आॅनलाईन ट्रांसफर सिस्टम विकसित किये जाने की प्रगति की समीक्षा बैठक की गई संपन्न

पीसीएस मणि मंजरी राय आत्महत्या मामले में नया खुलासा, ड्राइवर गिरफ्तार