प्रधानमंत्री 27 फरवरी को भारत खिलौना मेला 2021 का करेंगे उद्घाटन


प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी 27 फरवरी, 2021 को सुबह 11 बजे वीडियो कॉन्‍फ्रेंस के माध्‍यम से भारत खिलौना मेला 2021 का उद्घाटन करेंगे। बच्‍चों के मस्तिष्क विकास में खिलौने महत्‍वपूर्ण भूमिका निभाते हैं और मनोवैज्ञानिक गतिविधि तथा ज्ञान की कुशलता बढ़ाने में बच्‍चों की मदद करते हैं। 

अगस्‍त 2020 में अपने मन की बात कार्यक्रम को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा था कि खिलौने न केवल क्रियाशीलता बढ़ाते हैं बल्कि महत्‍वाकांक्षाओं को पंखभी लगाते हैं। बच्‍चे के समग्र विकास में खिलौनों के महत्‍व की चर्चा करते हुए प्रधानमंत्री ने पहले भी भारत में खिलौनों के उत्‍पादन को बढ़ाने पर बल दिया है। भारतखिलौना मेला 2021 का आयोजन प्रधानमंत्री के इस विजन के अनुरूप किया जा रहा है।

यह मेला 27 फरवरी से 2 मार्च, 2021 तक चलेगा। इसका उद्देश्‍य सतत लिंकेज बनाने तथा उद्योग के समग्र विकास पर विचार-विमर्श करने के लिए एक ही प्‍लेटफॉर्म पर खरीददारों, विक्रेताओं, विद्यार्थियों, शिक्षकों, डिजाइनरों आदि सहित सभी हितधारकों को लाना है। इस प्‍लेटफॉर्म के माध्‍यम से सरकार और उद्योग एक साथ विचार करेंगे कि कैसे भारत को खिलौना निर्माण और आउट सोर्सिंग का अगला वैश्विक हब बनाया जाए।ऐसा खिलौना क्षेत्र में निवेश आकर्षित करके तथा निर्यात बढ़ाकर किया जा सकता है।

ई-कॉमर्स सक्षम वर्चुअल प्रदर्शनी में 30 राज्‍यों तथा केन्‍द्र शासित प्रदेशों के 1000 से अधिक एक्‍जीबिटर अपने उत्‍पाद दिखाएंगे। इसमें परंपरागत भारतीय खिलौनों के साथ-साथ इलेक्‍ट्रॉनिक टॉय, प्‍लस टॉय, पजल तथा गेम्‍स सहित आधुनिक खिलौने दिखाए जाएंगे। खिलौना मेला में खिलौना डिजाइन तथा उत्‍पादन के क्षेत्र में प्रसिद्ध भारतीय तथा अंतर्राष्‍ट्रीय वक्‍ता विचार-विमर्श करेंगे। बच्‍चों के लिए यह मेला पारंपरिक खिलौना बनाने में कौशल प्रदर्शन और खिलौना संग्रहालयों तथा फैक्‍ट्रियों का वर्चुअल विजिट सहित अनेक गतिविधियों में भाग लेने का अवसर है।

Popular posts from this blog

अनेक बातें जो हम समझ नहीं पाते

मुख्य सचिव की अध्यक्षता में आॅनलाईन ट्रांसफर सिस्टम विकसित किये जाने की प्रगति की समीक्षा बैठक की गई संपन्न

पीसीएस मणि मंजरी राय आत्महत्या मामले में नया खुलासा, ड्राइवर गिरफ्तार