यूपी में नौकरी देने के नाम पर अफवाहों के सजे हैं बाज़ार- वंशराज दुबे

लखनऊ। पिछले 2 दिनों से रोजगार को लेकर ट्विटर कैम्पेन चल रहा है, उत्तर प्रदेश समेत पूरे देश में लाखो ट्वीट नौजवानों-बेरोजगारों द्वारा किया गया इसी के संदर्भ में जब एक पत्रकार ने उत्तर प्रदेश अधीनस्थ सेवा चयन आयोग के अध्यक्ष प्रवीर कुमार से पूछा कि छात्रों का कहना है कि आदित्यनाथ सरकार में निकाली गई कोई भी भर्ती आपका आयोग पूरी नहीं कर सका है तो प्रवीर कुमार की आवाज लड़खड़ा गई और झूठ बोलते हुए कहा कि आयोग ने इसी सरकार में निकाली गई खादी ग्राम उद्योग (तकनीकी सहायक अनुदेशक) व स्टेनोग्राफर (आशुलिपिक) की भर्ती को पूरा कराया है।
 
उत्तर प्रदेश अधीनस्थ सेवा चयन आयोग के अध्यक्ष के बयान पर आम आदमी पार्टी की छात्र विंग उत्तर प्रदेश सीवाईएसएस के अध्यक्ष वंशराज दुबे ने आयोग के अध्यक्ष प्रवीर कुमार समेत आदित्यनाथ सरकार को कटघरे में खड़ा कर दिया। सीवाईएसएस उत्तर प्रदेश अध्यक्ष वंशराज दुबे ने कहां कि आदित्यनाथ सरकार में नौजवानों के साथ मजाक करने की इंतहा हो चुकी है उनके भविष्य के साथ लगातार खिलवाड़ हो रहा है पहले आदित्यनाथ जी के ऑफिशियल टि्वटर हैंडल से या दावा किया जाता है कि 4 सालों में सरकार ने पौने चार लाख नौकरियां देने का काम किया लेकिन जब उस पर नौजवानों द्वारा आरटीआई लगाया जाता है तब या खुलासा होता है कि इस सरकार में उत्तर प्रदेश अधीनस्थ सेवा चयन आयोग द्वारा निकाली गई तमाम भर्तियां आज भी लंबित पड़ी हुई हैं।

उन्होंने आगे कहा कि प्रवीर कुमार एक राष्ट्रीय चैनल पर बैठकर पूरी तरह से झूठ बोल रहे है क्योंकि वह दोनों भर्तियां 2016 में निकाली गई जिनकी विज्ञापन संख्या 13/2016 व 27/2016 है। इनकी सरकार में निकाली गई एक भी भर्ती अभी तक पूरी नहीं हुई है चाहे वह उनकी पहली भर्ती युवा कल्याण अधिकारी हो या दूसरी ग्राम पंचायत अधिकारी सभी किसी न किसी कारणवश अटकी हुई हैं। वंशराज दुबे ने कहा कि कितना शर्मनाक है कि आदित्यनाथ अपने सरकारी तंत्र का इस्तेमाल करते हुए उत्तर प्रदेश के करोड़ों बेरोजगार नौजवानों के बीच में अफवाहों का बाजार सजाकर लगातार अलग-अलग विज्ञापनों के माध्यम से उत्तर प्रदेश के नौजवानों को नौकरियां देने के नाम पर सिर्फ और सिर्फ झूठ बोल रहे है। इस सरकार में 2017 से 2020 तक निकली सभी 13 भर्तियां आज भी लंबित पड़ी हुई हैं और जब नौजवान अपनी नौकरी में नियुक्ति के लिए मुख्यमंत्री आदित्यनाथ के पास जाता है तब उत्तर प्रदेश की पुलिस उस नौजवान के ऊपर लाठियां बरसाने का काम करती है।

Popular posts from this blog

अनेक बातें जो हम समझ नहीं पाते

मुख्य सचिव की अध्यक्षता में आॅनलाईन ट्रांसफर सिस्टम विकसित किये जाने की प्रगति की समीक्षा बैठक की गई संपन्न

पीसीएस मणि मंजरी राय आत्महत्या मामले में नया खुलासा, ड्राइवर गिरफ्तार