योगी राज में पुलिस भी महफूज नहीं - सभाजीत सिंह



लखनऊ। कासगंज में शराब माफिया द्वारा कुर्की का नोटिस चस्पा करने का सिपाही की हत्या और दरोगा को भाला मारने की दुखद घटना ने प्रदेश की बदहाल कानून व्यवस्था की पोल खोल दी है। योगी सरकार के जंगलराज में पुलिस भी महफूज नहीं है। ऐसे में आम आदमी यहां कितना सुरक्षित है, यह आसानी से समझा जा सकता है। ये बातें आम आदमी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष सभाजीत सिंह ने बुधवार को प्रदेश कार्यालय पर आयोजित संयुक्त प्रेस वार्ता में कहीं। 

उन्होंने कहा कि योगी सरकार में अपराधी पूरी तरह बेखौफ हो गए हैं। कासगंज में सिपाही की हत्या कर दी जाती है और दरोगा को पीट-पीटकर अधमरा कर दिया जाता है, तो मुरादाबाद में दरोगा से 5 लाख की रंगदारी न देने पर उसके परिवार को उठाने की धमकी दी जाती है। यह अराजकता की पराकाष्ठा है। आज प्रदेश में हर ओर जंगलराज नजर आ रहा है। जनता त्राहि-त्राहि कर रही है। सरेआम अगवा करके सामूहिक दुष्कर्म हो रहे हैं। सड़क पर बेटियां तो मंदिर में पुजारी भी सुरक्षित नहीं हैं। छात्राएं स्कूल जाने में भी डर रही हैं। 

सभाजीत सिंह ने कहा कि कासगंज का मामला पूरे प्रदेश से जुड़ा विषय है। हापुड़, प्रयागराज, लखनऊ आदि जिलों में अवैध शराब के कारण मौतें हुई हैं। शराब माफिया इतने बेखौफ हैं कि पुलिस जब इनके खिलाफ कार्रवाई करने जाती है तो वो उस पर हमला कर देते हैं। आखिर इन्हें किनका संरक्षण प्राप्त है और अवैध शराब की काली कमाई से किन-किन को हिस्सा जाता है, इसकी निष्पक्ष जांच होनी चाहिए। घटना में सर्वोच्च बलिदान करने वाले सिपाही के परिवार को दिल्ली सरकार की तरह यूपी सरकार को एक करोड़ की सम्मान राशि दी जानी चाहिए। आम आदमी पार्टी गुरुवार को सभी जिलों में बलिदानी सिपाही को नमन करते हुए श्रद्धांजलि सभा का आयोजन करेगी।

आम आदमी पार्टी के प्रदेश के मुख्य प्रवक्ता वैभव माहेश्वरी ने प्रदेश सरकार पर तंज करते हुए कहा कि इस सभा में बलिदानी सिपाही को श्रद्धांजलि देने के साथ बुधवार को आप कार्यकर्ता प्रदेश की कानून व्यवस्था को भी श्रद्धांजलि देंगे। उन्होंने जीएसटी में लगातार नियमों को सख्त बनाए जाने को लेकर प्रदेश सरकार पर व्यापारियों के उत्पीड़न का आरोप लगाया। कहा, कोरोना के कारण पूरे देश की अर्थव्यवस्था का बुरा हाल है। व्यापारी परेशान हैं, लेकिन सरकार उन्हें राहत देने की जगह लगातार उनसे वसूली के लिए नियमों को सख्त करने में जुटी हुई है। वैभव माहेश्वरी ने योगी सरकार से दिल्ली सरकार के टैक्स सिस्टम से सीख लेने की अपील की। कहा, दिल्ली में जबसे आम आदमी पार्टी की सरकार बनी तबसे व्यापारियों प्रतिष्ठानों पर रेड करने पर रोक लगा दी गई। इसके बाद भी 6 सालों में राजस्व 33 से बढ़कर 65 हजार करोड़ पहुंच गया। प्रदेश सरकार की ओर से जीएसटी के नाम पर व्यापारियों का शोषण बंद होना चाहिए।

महिला विंग की प्रदेश अध्यक्ष नीलम यादव ने कहा, प्रदेश में बहन-बेटियां कहीं भी सुरक्षित नहीं हैं। निकम्मी योगी सरकार दिखावे के लिए मिशन शक्ति अभियान चला रही है। फिर भी बदायूं का मंदिर की 50 वर्षीय महिला के साथ बलात्कार हो जाता है। राजधानी के आंबेडकर विश्वविद्यालय में छात्रा को छेड़छाड़ का शिकार होना पड़ता है, विरोध करने पर उसे और उसके भाई को पीटा जाता है। कानून व्यवस्था के मुद्दे पर योगी सरकार पूरी तरह से फेल हो चुकी है। प्रदेश की जनता इससे आजिज आ चुकी है और यहां भी दिल्ली की तरह सुरक्षित माहौल एवं गुड गवर्नेंस चाहती है। महिलाओं के खिलाफ बढ़ते अपराध को लेकर जल्द प्रदेश में बड़ा आंदोलन छेड़ा जाएगा।

Popular posts from this blog

अनेक बातें जो हम समझ नहीं पाते

मुख्य सचिव की अध्यक्षता में आॅनलाईन ट्रांसफर सिस्टम विकसित किये जाने की प्रगति की समीक्षा बैठक की गई संपन्न

पीसीएस मणि मंजरी राय आत्महत्या मामले में नया खुलासा, ड्राइवर गिरफ्तार