हार के डर से पंचायत चुनाव सिंबल पर नहीं करा रही भाजपा- सभाजीत सिंह

 
आम आदमी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष सभाजीत सिंह ने आगामी पंचायती चुनाव को सिंबल पर न कराने को लेकर योगी सरकार पर जमकर हमला किया। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री आदित्यनाथ ने कहा था कि उत्तर प्रदेश में जिला पंचायत, ब्लाक का चुनाव जनता से होना चाहिए, जिला पंचायत सदस्यों के चुनाव सिंबल पर होगे आम आदमी पार्टी ने उनका स्वागत किया था लेकिन किसान आंदोलन से डर कर, बेरोजगारों से डरकर, नौजवानों से डरकर, महिलाओं से डरकर उत्तर प्रदेश की बदहाल कानून व्यवस्था को देखते हुए योगी सरकार पंचायती चुनाव सिंबल पर नहीं कराना चाहती है।
 
उन्होंने कहा भारतीय जनता पार्टी के खिलाफ पूरे प्रदेश में आक्रोश है, लोगों में बेहद गुस्सा है। इसका अंदाजा होते ही योगी सरकार ने सिंबल पर चुनाव कराने की बात से मुकर कर सिम्बल पर चुनाव नहीं लड़ने का निर्णय लिया है। उन्होंने कहा कि अगर जिला पंचायतों के चुनाव में भाजपा अपने सिंबल से चुनाव लड़ती तो किसान, नौजवान, बेरोजगार, कर्मचारी, महिलाएं उसकी जमानत जप्त करा देंगे। इस कारण घबराकर कर भाजपा कह रही है कि जिला पंचायत सदस्य के चुनाव पार्टी के सिंबल पर नहीं होगा। जिला पंचायत के चुनाव में जहाँ सबसे ज्यादा भागीदारी किसानों की होती है। वहां अपने सिंबल पर चुनाव लड़ने से डर रही है। 

उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में आम आदमी पार्टी का विस्तार दिन प्रतिदिन बढ़ रहा है और पंचायत के चुनाव में हम लोग की तैयारी और जिले में युद्ध स्तर पर चल रही है आगामी पंचायत चुनाव की सभी सीटों पर आम आदमी पार्टी उत्तर प्रदेश में चुनाव लड़ेगी। आम आदमी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष सभाजीत सिंह ने बुधवार को बाराबंकी जैदपुर के मानपुर निवासी किसान लल्ला ने कर्ज ना चुका पाने के कारण आत्महत्या करने पर दुख जताते हुए कहा कि सरकार की गलत नीतियों के कारण उत्तर प्रदेश में आए दिन किसान आत्महत्या कर रहे हैं, किसानों की कर्ज माफी का वादा पूरा ना करना, किसान को फसल का लागत मूल्य नहीं मिल पा रहा है।
 
मंडियों में दलाली चरम सीमा पर है जिससे परेशान होकर किसान ओने पौने दाम में अपनी फसल बेचने को मजबूर हो जाता है और किसान का आर्थिक नुकसान होता है समय से किस्त नहीं दे पाता है परेशान होकर किसान आत्महत्या कर लेता है। सिंह ने कहा कि देश का किसान पिछले ढाई महीने से कृषि के तीनों काले कानूनों के खिलाफ आंदोलनरत है। लेकिन भाजपा सरकार गूंगी बहरी बनकर किसानों की पीड़ा को अनदेखा कर रही है जो बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है आम आदमी पार्टी किसानों के इस आंदोलन में पहले दिन से मजबूती के साथ खड़ी है और सड़क से लेकर के सदन तक संघर्ष कर रही है। उन्होंने योगी सरकार से मांग की है कि क्रय केंद्रों पर एमएसपी पर किसानों की फसल की खरीद और व्याप्त भ्रष्टाचार को खत्म करें।

Popular posts from this blog

अनेक बातें जो हम समझ नहीं पाते

मुख्य सचिव की अध्यक्षता में आॅनलाईन ट्रांसफर सिस्टम विकसित किये जाने की प्रगति की समीक्षा बैठक की गई संपन्न

यूपी में पंचायत चुनाव को लेकर राज्य निर्वाचन आयोग ने शुरू की तैयारियां