पीजीआई में दवा घोटाले पर 'आप' के मुख्य प्रवक्ता ने योगी सरकार पर साधा निशाना


लखनऊ। पीजीआई में सामने आए दवा घोटाले पर आम आदमी पार्टी के प्रदेश के मुख्य प्रवक्ता वैभव माहेश्वरी ने तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए योगी सरकार को भ्रष्टाचार की सरकार करार दिया। रविवार को जारी बयान में उन्होंने कहा कि सरकार में शीर्ष स्तर पर व्याप्त भ्रष्टाचार के कारण भ्रष्टाचारी कर्मचारी बेखौफ हो गए हैं। जरूरतमंद लोगों की दवाई गटक कर उन्होंने ऐसा ही साबित किया है।

वैभव माहेश्वरी ने कहा कि योगीराज में ऊपर से नीचे तक चरम पर व्यापक भ्रष्टाचार व्याप्त है। चाहे कर्मचारी हो या कोरोना पर बनाई गई 11 विशेषज्ञों वाली समिति, सभी ने देखा कि इस सरकार में जहां जब भी मौका मिला, जमकर भ्रष्टाचार किया गया। उस समय जब लोग कोरोना महामारी में मर रहे थे, तब सरकार के शीर्षस्थ अधिकारियों वाली समिति घोटाला करने में जुटी हुई थी। मामला सामने आया तो सरकार ने खुद के भ्रष्टाचार की जांच के लिए एक एसआईटी बनाई, जिसकी जांच रिपोर्ट आज तक नहीं दे पाई है।

जबकि एसआईटी बनाते वक्त दावा किया गया था कि 10 दिन के अंदर घोटाले की पूरी रिपोर्ट सार्वजनिक की जाएगी। ऐसे में इस सरकार क्या उम्मीद की जा सकती है। मामले में सरकार की ओर से कोई सख्त कार्यवाही न होने से पूरे प्रदेश में यह संदेश गया कि योगी सरकार में भ्रष्टाचारियों को पूरा संरक्षण प्राप्त है। जाहिर है कि इस घोटाले में भी कर्मचारियों को शीर्ष स्तर का वरदहस्त प्राप्त है। इसीलिए कर्मचारी इतने बेखौफ हैं। वह जानते हैं कि जब शीर्ष स्तर पर इतने बड़े-बड़े घोटाले किए जाते हैं और कुछ नहीं होता, तो हमारे ऊपर भला क्या आंच आएगी।

यह पूरी तरह घोटालों की सरकार है। प्रचार की सरकार है। जाहिर सी बात है कि इसका परिणाम आम जनता को भुगतना पड़ रहा है आम जनता यह मान रही है कि उसे बहुत बड़ी भूल हो गई कि उसने भाजपा को अच्छे राज की उम्मीद में वोट दिया और अब जो स्थिति है उसमें न स्कूल सही हैं और न अस्पताल सही हैं, पुलिस स्टेट बनाकर उस राज्य को चलाया जा रहा है।

Popular posts from this blog

अनेक बातें जो हम समझ नहीं पाते

मुख्य सचिव की अध्यक्षता में आॅनलाईन ट्रांसफर सिस्टम विकसित किये जाने की प्रगति की समीक्षा बैठक की गई संपन्न

यूपी में पंचायत चुनाव को लेकर राज्य निर्वाचन आयोग ने शुरू की तैयारियां