पीएम मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के साथ शताब्दी समारोह का किया आगाज


चौरी चौरा घटना को 100 साल पूरे हो गये हैं। इस अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने चौरी चौरा शताब्दी समारोह (Chauri Chaura Centenary Celebrations) की शुरुआत की। इस ऐतिहासिक घटना के शताब्दी समारोह की शुरुआत उन्होंने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए की। वहीं पीएम मोदी ने चौरी चौरा पर एक डाक टिकट भी जारी किया। साथ ही देश की आजादी की खातिर अपना जीवन बलिदान करने वालों को नमन किया
 
चौरी चौरा घटना के 100 साल पूरे होने के अवसर पर गुरुवार से साल भर तक गोरखपुर समेत प्रदेश के सभी जिलों में अलग-अलग कार्यक्रम होंगे। चौरी चौरा शहीदों के सम्मान में यह अब तक का सबसे बड़ा कार्यक्रम होगा। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की पहल पर पहला मौका है, जब समूचा प्रदेश शहीदों को सम्मान देने के लिए एक साथ आगे बढ़ा है। महोत्सव की तैयारियां बुधवार देर रात तक पूरी कर ली गईं। पर्यटन मंत्री नीलकंठ तिवारी व प्रमुख सचिव मुकेश मेश्राम देर रात तक शहीद स्थल पर डटे रहे। 
 
प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि ये दुर्भाग्य है चौरी चौरा शहीदों की जितनी चर्चा होनी थी, नहीं हो पाई। इन शहीदों को इतिहास के पन्नों में जरूर जगह नहीं दी गई हो लेकिन यहां के शहीदों का खून यहां की मिट्टी में जरूर मिला हुआ है। वो सब मां भारती की वीर संतान थे। आजादी की ऐसी शायद ही कोई घटना होगी जिसमें 19 स्वतंत्रता सेनानियों को फांसी पर लटकाया गया हो।

पीएम मोदी ने कहा कि 100 साल पहले जो हुआ, वो सिर्फ एक थाने में आग लगा देने तक सीमित नहीं था बल्कि इसका संदेश बहुत व्यापक था। उस रात आग थाने में नहीं, जन-जन के दिलों में प्रज्ज्वलित हो चुकी थी। उन्होंने कहा कि चौरी चौरा के ऐतिहासिक संग्राम को आज देश के इतिहास में जो स्थान दिया जा रहा है, इसके लिए जो कोशिश की जा रहा है, वह तारीफ के काबिल है। इसके लिए पीएम ने सीएम योगी आदित्यनाथ और उनकी टीम को बधाई दी।

Popular posts from this blog

अनेक बातें जो हम समझ नहीं पाते

मुख्य सचिव की अध्यक्षता में आॅनलाईन ट्रांसफर सिस्टम विकसित किये जाने की प्रगति की समीक्षा बैठक की गई संपन्न

यूपी में पंचायत चुनाव को लेकर राज्य निर्वाचन आयोग ने शुरू की तैयारियां