सरकार द्वारा प्राईवेट चिकित्सालयों में 250 रू0 प्रति डोजेज की गयी है नियत- अमित मोहन प्रसाद


लखनऊ। उत्तर प्रदेश के अपर मुख्य सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने लोकभवन में प्रेस प्रतिनिधियों को सम्बोधित करते हुए बताया कि प्रदेश में कल एक दिन में कुल 96,162 सैम्पल की जांच की गयी।

प्रदेश में अब तक कुल 3,27,57,452 सैम्पल की जांच की गयी है। उन्होंने बताया कि प्रदेश में पिछले 24 घंटे में कोरोना से संक्रमित 178 नये मामले आये हैं। प्रदेश में 1,851 कोरोना के एक्टिव मामलों में से 865 लोग होम आइसोलेशन में हैं। इसके अतिरिक्त मरीज निजी चिकित्सालयों एवं सरकारी अस्पतालों में अपना ईलाज करा रहे है। उन्होंने बताया कि प्रदेश में अब तक 5,94,693 लोग कोविड-19 से ठीक होकर डिस्चार्ज हो चुके हैं। प्रदेश में सर्विलांस टीम के माध्यम से 1,86,221 क्षेत्रों में 5,12,724 टीम दिवस के माध्यम से 3,15,14,761 घरों के 15,30,03,873 जनसंख्या का सर्वेक्षण किया गया है।

प्रसाद ने बताया कि प्रदेश भर में कोविड वैक्सीनेशन का कार्य किया जा रहा है, मेडिकल कालेज/जिला चिकित्सालय में सोमवार से शनिवार तक टीकाकरण किया जा रहा है तथा सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र/प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र पर सोमवार, बृहस्पतिवार और शुक्रवार को कोविड वैक्सीनेशन का टीकाकरण किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि अगले सप्ताह से सभी मेडिकल काॅलेज, सभी जिला अस्पताल तथा सभी सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र पर सोमवार से शनिवार तक कोविड वैक्सीनेशन का टीकाकरण किया जायेगा।

उन्होंने बताया कि जो को-माॅर्बिड 45 से 60 वर्ष के आयु वर्ग लोगों का टीकाकरण किया जा रहा है, जो 60 वर्ष के ऊपर आयु वर्ग के हैं उनके लिए किसी प्रकार की कोई भी शर्त नहीं है। वे अपना नजदीकी सेन्टर पर जाकर टीकाकरण करा सकते हैं। उन्होंने बताया प्रदेश में अब तक कुल 26,43,841 कोविड वैक्सीनेशन की डोज लगायी गयी, इनमें से 20,30,600 व्यक्तियों को पहली डोज लगी है इनमें से 6,13,241 को दूसरी डोज भी लगायी जा चुकी है। उन्होंने बताया कि सरकार द्वारा प्राइवेट चिकित्सालयों में रूपये 250 प्रति डोज नियत की गयी है। 250 रूपये से अधिक पैसे मांगे जाते है तो जिले के सी0एम0ओ0 को सूचित करे।

प्रसाद ने बताया कि ग्राम निगरानी समिति/मोहल्ला निगरानी समिति, स्वयंसेवी संगठन एवं जन-प्रतिनिधियों से अपील है कि आपके आसपास जो भी बुजुर्ग हैं, उन्हें सेन्टर पर ले जाकर उनका कोविड वैक्सीनेशन का टीकाकरण अवश्य करायें, जिससे उन्हें कोराना संक्रमित होने से बचाया जा सके। उन्होंने कहा कि संक्रमण समाप्त नहीं हुआ है कोविड प्रोटोकाॅल का पालन अवश्य करें।

Popular posts from this blog

अनेक बातें जो हम समझ नहीं पाते

मुख्य सचिव की अध्यक्षता में आॅनलाईन ट्रांसफर सिस्टम विकसित किये जाने की प्रगति की समीक्षा बैठक की गई संपन्न

यूपी में पंचायत चुनाव को लेकर राज्य निर्वाचन आयोग ने शुरू की तैयारियां