जनसमस्याओं का गुणवत्तापरक किया जाए निस्तारण - योगी आदित्यनाथ

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जनसमस्याओं के गुणवत्तापूर्ण निस्तारण के निर्देश दिये हैं। उन्होंने कहा है कि प्रत्येक जनपद में जिलाधिकारी द्वारा जनता की समस्याओं और शिकायतों के निस्तारण की नियमित समीक्षा की जाए।
 
उन्होंने सम्पूर्ण समाधान दिवस (तहसील दिवस) तथा थाना दिवस को और प्रभावी बनाने के निर्देश देते हुए कहा कि राजस्व विभाग तथा पुलिस विभाग द्वारा जनसमस्याओं का गुणवत्तापरक निस्तारण किया जाए। मुख्यमंत्री आज यहां अपने सरकारी आवास पर आहूत एक उच्चस्तरीय बैठक में विभिन्न विभागों के कार्यों की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने कहा कि गर्मी के मौसम में आग लगने की दुर्घटनाओं की सम्भावना बनी रहती है। उन्होंने इसके दृष्टिगत राहत आयुक्त कार्यालय तथा जनपद स्तर पर राजस्व प्रशासन को सक्रिय रहने के निर्देश दिए।
 
मुख्यमंत्री ने निर्देश दिए कि आगामी पर्वों, त्यौहारों को ध्यान में रखते हुए खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन विभाग पूरी सक्रियता से बाजारों में बिक रही खाद्य सामग्री की गुणवत्ता की जांच करे। उन्होंने बाजारों में बेचे जा रहे सरसों के तेल की भी गुणवत्ता की जांच किए जाने के निर्देश दिए हैं। मुख्यमंत्री ने 01 अप्रैल, 2021 से मूल्य समर्थन योजना के तहत प्रारम्भ किए जा रहे गेहूं खरीद कार्य की सभी व्यवस्थाएं समय से पूरी करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि मण्डियों की कार्य प्रणाली को मौके पर परखने के लिए टीम गठित करते हुए सभी मण्डियों का आकस्मिक निरीक्षण किया जाए।

Popular posts from this blog

अनेक बातें जो हम समझ नहीं पाते

मुख्य सचिव की अध्यक्षता में आॅनलाईन ट्रांसफर सिस्टम विकसित किये जाने की प्रगति की समीक्षा बैठक की गई संपन्न

पीसीएस मणि मंजरी राय आत्महत्या मामले में नया खुलासा, ड्राइवर गिरफ्तार